मकर संक्रांति के पर्व पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जानिये क्या है नियम

मकर संक्रांति के पर्व पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं, जानिये क्या है नियम

नया वर्ष शुरू होते ही सबसे पहले जो त्योहार आता है वो है मकर संक्रांति. इस वर्ष 15 जनवरी को मकर संक्रांति मनाई जाएगी. इसके अलावा हिंदू धर्म में इस त्योहार का काफी महत्व माना जाता है. माना जाता है कि इस दिन सूर्य भगवान मकर राशि में प्रवेश करते हैं. इसका प्रभाव सभी राशियों पर पड़ता है. ऐसे में मकर संक्रांति मनाने के कुछ नियम दिए गए हैं, इनका पालन सही से करना चाहिए तो जीवन के सभी कष्ट दूर हो जाएंगे. जानिए कि मकर संक्रांति पर क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए.

Makar Sankranti 2020 Ke Niyam: मकर संक्रांति पर क्या करें-

– मकर संक्रांति के दिन गंगा स्नान का बहुत महत्व है. दूर-दूर से लोग इस दिन गंगा नदी में स्नान करने पहुंचते हैं. गंगा के अलावा अन्य पवित्र नदियों में भी स्नान किया जाता है. यदि आप नदी में स्नान नहीं कर सकते तो अपने घर में ही पानी में गंगाजल मिलाकर स्नान कर लें.

– स्नान करने के बाद सूर्य भगवान को जल चढ़ाएं. मकर संक्रांति के दिन सूर्य देवता की पूजा करने से जीवन में खुशियां आती हैं.

– संक्रांति पर भगवान शिव, विष्णु और मां लक्ष्मी की पूजा भी करें.

– मकर संक्रांति के दिन दान का विशेष महत्व है. गरीबों को अन्न, कपड़ें आदि दान करें. गाय को चारा खिलाएं और सेवा करें. पौधे लगाएं.

– घर में नया झाड़ू खरीद कर लाएं, इससे मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी.

– अपने बड़ों का आशीर्वाद लें, उनका आदर-सम्मान करें.

– संक्रांति के दिन अपनी तिजोरी में रखे जेवरातों को निकालें और उन्हें गंगाजल से धोएं. इसके बाद उनपर हल्दी लगाकर पहनें.

– घर में तिल और खिचड़ी बनाएं और ब्राह्मण भोज के बाद निर्धनों को दान करें. अपने परिवार के साथ बैठकर खुद भी खाएं.

ऐसे बनता है कुंडली में शनि दोष, जानिये ज्योतिष उपाय बचने का तरीका

ये 5 चमत्कारिक मंत्र कर देंगे जीवन के सारे दुःख दर्द

ऐसे चार उपाय जो आपके विरोधी-शत्रुओं को रखेंगे शांत