Share:
मध्य प्रदेश के जोबट गाँव को पहली बार मिली रेल कनेक्टिविटी, सांसद ने ग्रामीणों के लिए ख़रीदे 100 टिकट
मध्य प्रदेश के जोबट गाँव को पहली बार मिली रेल कनेक्टिविटी, सांसद ने ग्रामीणों के लिए ख़रीदे 100 टिकट

अलीराजपुर: मध्य प्रदेश के जोबट गांव को मंगलवार को रेल कनेक्टिविटी मिल गई और जोबट और प्रताप नगर (वडोदरा) के बीच पहली ट्रेन शुरू हुई। अब जोबट से गुजरात तक का सफर भी ट्रेन से पूरा होगा, क्योंकि अलीराजपुर आने वाली ट्रेन को जोबट तक बढ़ा दिया गया है। रेल मार्ग का यह विस्तार अलीराजपुर के उन निवासियों के लिए परिवहन का एक सुविधाजनक और कुशल साधन प्रदान करेगा जो जोबट की यात्रा करना चाहते हैं। इससे न केवल समय की बचत होगी, बल्कि इन दोनों शहरों के बीच कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी, जिससे यात्रियों और स्थानीय अर्थव्यवस्था दोनों को लाभ होगा। जोबट से प्रतापनगर तक ट्रेन का टिकट 75 रुपये है जबकि बस यात्रा का किराया लगभग 200 रुपये है।

मंगलवार दोपहर करीब 2.05 बजे रतलाम-झाबुआ सांसद गुमानसिंह डामोर ने हरी झंडी दिखाकर ट्रेन को रवाना किया। यात्रा के पहले दिन 168 टिकटें बिकीं और 68 यात्रियों ने अलीराजपुर-प्रतापनगर तक यात्रा की। ट्रेन को हरी झंडी दिखाने के बाद सांसद डामोर ने कहा कि इस ट्रेन के शुरू होने से विकास को गति मिलेगी। अलीराजपुर के बाद, ट्रेनों ने छोटा उदयपुर-धार रेल परियोजना पर सेवा शुरू की और खंडाला और जोबट में भी पटरियों पर दौड़ना शुरू कर दिया। जोबट और खंडाला में रेलवे स्टेशन काफी समय पहले तैयार किए गए थे। उन्होंने ट्रैक का परीक्षण भी किया था। ट्रेन के संचालन की ही प्रतीक्षा थी और यह 5 दिसंबर को समाप्त हो गई। अलीराजपुर जिले के बाद खंडाला और जोबट में रुकते हुए ट्रेनें चलने लगीं। यह अनुमान लगाया गया है कि इस विकास से आर्थिक विकास में तेजी आएगी और जिले के सामान्य जीवन स्तर में सुधार होगा।

वडोदरा के प्रतापनगर स्टेशन और अलीराजपुर के बीच चलने वाली ट्रेन 09119 (मूल ट्रेन 59123) और ट्रेन 09120 (मूल ट्रेन 59124) को जोबट तक बढ़ा दिया गया है। ट्रेन करीब 80 से 90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से मंगलवार को जोबट पहुंची। एकत्रित जन प्रतिनिधियों ने जयकारे लगाकर ट्रेन और लोको पायलट का स्वागत किया। ट्रेन मंगलवार दोपहर करीब 1:20 बजे जोबट पहुंची। ट्रेन को देखने के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीण भी रेलवे स्टेशन पहुंचे। 

भाजपा नेताओं के साथ सांसद गुमान सिंह डामोर ने अपने समर्थकों के साथ रेलवे स्टेशन का दौरा किया। टिकट खिड़की पर उन्होंने खंडाला गांव के 100 टिकटों के लिए 3000 रुपये का भुगतान किया। इसके बाद नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाई गई। पहले दिन जोबट ने कुल 168 टिकटें बेचीं। उनमें से 68 को प्रतापनगर और अलीराजपुर भेजा गया। डामोर के मुताबिक केंद्र सरकार आदिवासी क्षेत्रों की उन्नति के लिए प्रतिबद्ध है. जोबट से ट्रेन सेवा शुरू होने से क्षेत्र के विकास में तेजी आएगी। स्वास्थ्य सेवाएँ, फल, सब्जियाँ, दुग्ध उत्पादन और कृषि उत्पादों की बिक्री सभी स्थानीय लोगों के लिए उपलब्ध होंगी। उन्होंने संभावना जताई कि इंदौर तक इस रेलवे लाइन के विस्तार का काम जल्द ही पूरा हो जाएगा। डामोर के अनुसार जोबट से ट्रेन सेवा शुरू होने पर क्षेत्र का विकास होगा। डामोर जोबट रेलवे स्टेशन भी गये। रेलवे के सीपीएम गतिशक्ति मुकेश कुमार ने ट्रेन शेड्यूल के संबंध में जानकारी दी। 

तीनों राज्यों में चुनाव जीतने वाले भाजपा सांसदों और मंत्रियों ने पद से दिया इस्तीफा, CM पोस्ट को लेकर और बढ़ा सस्पेंस !

अडानी की दौलत में अचानक कैसे हुए इतना इजाफा ? फिर से शीर्ष 15 अरबपतियों की सूची में पहुंचे

भीषण तबाही मचाने के बाद कमज़ोर पड़ा चक्रवाती तूफ़ान Michaung, दक्षिण भारत में 40 लाख लोग प्रभावित

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -