आपका व्यवहार भी बनता है बच्चों के मोटापे का कारण

आपका व्यवहार भी बनता है बच्चों के मोटापे का कारण

आज के समय में बच्चों को बाहर का खाना बेहद पसंद होता है जिसके कारण उनका वजन बढ़ जाता है. बढ़ते वजन से उनके पेरेंट्स भी परेशान रहते हैं. इसके अलावा भी कई कारण हो सकते हैं जिससे बच्चो का वजन बढ़ता है. आपको शायद यकीन न हो, लेकिन आपका व्यवहार भी बच्चों के वजन को प्रभावित करता है. कुछ समय पहले एक अध्ययन में भी यह बात सामने आई कि माता-पिता के व्यवहार और बच्चों के वजन का आपस में एक गहरा नाता है. आज इसी के बारे में आपको बताने जा रहे हैं कि आपका व्यवहार बच्चों की हेल्थ पर असर करता है. 

हेल्दी ईटिंग
बच्चों को हेल्दी बनाने के लिए सबसे पहले आप हेल्दी ईटिंग करना शुरू करें. अगर आप ही बाहर का खाना खाएंगी तो बच्चा भी ऐसा ही करेगा और कुछ वक्त बाद उसे घर का खाना बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगेगा. इसलिए आज से ही घर पर हेल्दी फूड बनाना शुरू करें और बच्चे के साथ मिलकर खाएं. इससे बच्चे ही भी गुड ईटिंग हैबिट्स डेवलप होंगी.

खेलने का समय
आज के समय में अगर घर में देखा जाए तो पैरेंट्स लैपटॉप में लगे होते हैं और बच्चे फोन या टीवी में अपना वक्त बिताते हैं. जिसके कारण वह फिजिकली एक्टिव नहीं हो पाते. इसलिए पहले अपना व्यवहार बदलें और घर में स्क्रीन टाइम को सीमित करें. साथ ही कोशिश करें कि आप नियमित रूप से बच्चे के साथ एक घंटा जरूर खेलें. इससे आपकी आपसी बॉन्डिग भी अच्छी होगी और आप दोनों एक एक्टिव व हेल्दी लाइफ भी जीएंगे.

घर का काम
बच्चे के वजन को नियंत्रित करने के लिए आप घर के छोटे-मोटे कामों जैसे क्लीनिंग आदि में उसकी मदद लें. इससे उनका हेल्दी वेट तो मेंटेंन होगा ही, साथ ही आपकी आपसी बॉन्डिंग भी बेहतर होगी. इसके अतिरिक्त इस तरह से उन्हें सेल्फ-रेग्युलेट होने में भी मदद मिलेगी.

World Sepsis Day : जानिए क्या है इसके लक्षण, कैसे कर सकते हैं बचाव

छोटी हाइट वालों को अधिक होता है डायबिटीज का खतरा..!

हाई ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करता नारियल पानी, जानें अन्य फायदे