+

खुद की जमीं नहीं है

खुद की जमीं नहीं है

tyle="text-align:justify">तेरे पास जो है उसकी क़द्र कर
और सब्र कर दीवाने...
यहाँ तो आसमां के पास भी 
खुद की जमीं नहीं है...