खिलाडी जो है IPL इतिहास में क्वॉलिफायर मुकाबलों का सबसे बड़ा चैंपियन

आज इंडियन प्रीमियर लीग आईपीएल 2018 का पहला क्वॉलिफायर चेन्नै सुपर किंग्स और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच खेला जाना है. सुरेश रैना ने हमेशा से ही CSK  के लिए की-प्लेयर की भूमिका निभाई है. वैसे भी रैना टी-20 के चैम्पियन खिलाडी है. आईपीएल में प्लेऑफ मुकाबलों के बॉस का तमगा भी रैना के नाम के साथ जुड़ा है. रैना ने अबतक प्लेऑफ में 13 मुकाबले खेले हैं जिसमें उन्होंने 427 रन बनाए हैं, जिसमें 5 अर्धशतक शामिल हैं. उनके अबतक के प्रदर्शन पर नजर डालते हैं- 2009 और 2010 में खराब प्रदर्शन के बाद रैना का फॉर्म फिर से लौटा, इस क्वॉलिफायर में रैना ने 4 चौके और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 73 रन बनाए थे.

फिरोजशाह कोटला मैदान पर हुए इस मैच में रैना ने कुल 42 गेंदों पर नाबाद 82 रन बनाए थे. तब माइक हसी (86 रन) ने रैना के साथ मिलकर 168 रन जोड़े थे. इस साल रैना की भारतीय वनडे टीम में वापसी हुई थी, जिसको उन्होंने आईपीएल में सेलिब्रेट किया. मैच में रैना ने 33 गेंदों पर 54 रन बनाकर टीम को जीत दिलाई थी. इस मैच में वीरेन्द्र सरवाग के शतक की मदद से पंजाब ने 226 रन का विशाल स्कोर खड़ा कर दिया था.

इसके जवाब में रैना ने 12 चौके और 6 छक्कों की मदद से 25 गेंदों में 87 रन लगाए. हालांकि वह टीम को जीत नहीं दिला सके थे . मगर आज के मुकाबले में टीम को और कप्तान धोनी को रैना से बड़ी उम्मीदे है कि वे अपनी चैंपियन वाली इमेज के साथ खेलते हुए टीम को जीत का सहरा पहनाएंगे .

 

IPL 2018: मैच से पहले इस तरह चेन्नई की जीत हुई पक्की

IPL2018 : चेन्नई-हैदराबाद से पहले महिला टी-20 प्रदर्शनी मैच

IPL 2018: कुछ ऐसा है हैदराबाद और चेन्नई का एक दूसरे के खिलाफ प्रदर्शन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -