करवा चौथ पर प्यास कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये 8 बेहतरीन टिप्स

करवा चौथ का व्रत महिलाओं के लिए बहुत अहम व्रत कहा जाता है। इस दिन सुहागिनें पति की लंबी आयु के लिए निर्जला व्रत रखती हैं तथा चांद देखने के पश्चात् ही व्रत खोलती हैं। मगर इस व्रत में सुहागिनों के लिए प्यास पर नियंत्रण रखना बड़ा कठिन हो जाता है। शरीर डीहाड्रेट होने के कारण समस्याएं भी बढ़ सकती हैं। आइए आपको प्यास नियंत्रित रखने के कुछ जबरदस्त टिप्स बताते हैं।

दूसरे कामों में मन लगाएं:- आप स्वयं को पूरा दिन व्यस्त रखने का प्रयास करें। 

बॉडी टेंपरेचर को मेंटेन रखें:- शरीर का तापमान कण्ट्रोल रखने से भी आपको कम प्यास लगेगी। सबसे पहले तो आपको गर्मी एवं धूप से बचकर रहना चाहिए। घर या दफ्तर में एसी में रहने का प्रयास करें। 

पानी से खुद को रखें कूल:- यदि आपको बेहद गर्मी लग रही है तो आप ठंडे पानी में नहा सकती हैं। पानी का तापमान शरीर के तापमान से कम होना चाहिए। इसके अतिरिक्त आप टॉवेल में आइसक्यूब लपेटकर दो मिनट के लिए गले एवं कलाई के समीप रखें।

नाक से सांस लें:- जब आप मुंह से सांस लेते हैं तो हवा आपके मुंह से गुजरती है तथा आपका मुंह सूख जाता है। जब आपका मुंह सूखने लगता है तो आपको प्यास लग जाती है। आप इस बात पर ध्यान दीजिए कि आप नाक से सांस ले रहे हैं या फिर मुंह से, यह एक ऐसी चीज है जिस पर ज्यादातर लोग ध्यान नहीं देते हैं।

ह्यूमिडिफायर:- कमरे में ह्यूमिडिफायर का उपयोग करें। ज्यादातर लोग प्रातः उठते ही पानी की ओर हाथ बढ़ाते हैं। मगर क्या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्यों होता है? क्योकि हम सोते हैं तो नाक की जगह मुंह से ही सांस लेते हैं। घंटों ऐसा करने के पश्चात् हमारा मुंह बिल्कुल सूख जाता है। ह्यूमिडिफायर हवा का माइश्चर करता है, इसके उपयोग से आपका मुंह सूखना बंद हो जाएगा।

ऐसा कपड़े पहनें:- अपने पहनावे पर भी ध्यान दें। गर्मी से बचने के लिए हल्के, बगैर लेयर वाले, हल्के रंग के कपड़े पहनें। कॉटन के कपड़े भी गर्मी से बचने में सहायता करते हैं। अधिक फिटिंग वाले कपड़ों से दूर रहें।

तेज आवाज में बात ना करें:- करवाचौथ के दिन बेहद चिल्लाकर बात ना करें तथा किसी भी प्रभाव की एक्सरसाइज या अधिक ऊर्जा खपत वाले काम बिल्कुल ना करें। नहीं तो आपको अधिक प्यास लगेगी। 

चंद्रोदय के बाद चाय या कॉफी ना पिएं:- चंद्रमा के उदय के तुरंत पश्चात् चाय या कॉफी पीने से बचें। आप पूरा दिन खाली पेट रहती हैं जिससे आपके शरीर में एसिडिटी हो सकती है। डिहाइड्रेशन एवं कमजोरी से बचने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी पी सकते हैं।

करवाचौथ 2021: यहां जानिए तमाम शहरों में चंद्रोदय का समय!

कार्तिक मास में इस प्रकार करें तुलसी पूजा, बने रहेगी माँ लक्ष्मी की कृपा

आज इन 3 राशि के लोगों को होगा बड़ा नुकसान!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -