'युवा नेता कांग्रेस छोड़ रहे और दोष हम बूढ़ों को दिया जा रहा..', सुष्मिता के इस्तीफे पर भड़के सिब्बल

नई दिल्ली: महिला कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता सुष्मिता देव (Sushmita Dev) ने कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया है. इसके बाद पार्टी नेताओं की इस पर प्रतिक्रयाओं का सिलसिला भी शुरू हो गया है. पार्टी के वरिष्ठ नेता और पेशे से वकील कपिल सिब्बल ने इस तरह युवाओं के पार्टी छोड़ने पर सवाल उठाए हैं. वहीं कांग्रेस सांसद रिपुन बोरा ने सुष्मिता से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने और इस्तीफा वापस लेने का आग्रह किया है.

 

कपिल सिब्बल ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, 'सुष्मिता देव ने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया है. जब युवा पार्टी को छोड़कर जाते हैं, तो हम ‘बूढ़ों’ को पार्टी को मजबूत करने के हमारी कोशिशों के लिए दोषी ठहराया जाता है. पार्टी आगे बढ़ती रहती है आंखे बंद करके.' वहीं रिपुन बोरा ने इस मामले पर अपनी राय रखते हुए कहा कि, 'सुष्मिता देव एक समर्पित कांग्रेस नेता थीं, कभी सोचा नहीं था कि वह ऐसा फैसला लेंगी. हम परिवार की तरह थे. यदि उनके मन में पार्टी के खिलाफ कुछ भी था, तो उन्हें इस पर बात करनी चाहिए थी. मैं उनसे अपने फैसले पर पुनर्विचार करने और इस्तीफा वापस लेने का आग्रह करता हूं.'

सुष्मिता देव का पार्टी से त्यागपत्र देने के लिए कांग्रेस की कार्यकारी अध्यक्ष सोनिया गांधी को भेजा गया पत्र भी सामने आया है, जिसमें उन्होंने तमाम नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया है. सुष्मिता देव ने जब अपना ट्विटर बायो बदला तभी से अटकलों का दौर शुरू हो गया था. बता दें कि सुष्मिता देव का नाम कांग्रेस के उन नेताओं में शामिल है, जिनका ट्विटर अकाउंट हाल ही में लॉक कर दिया गया था. कांग्रेस ने इन अकाउंट्स के लॉक होने पर सवाल भी उठाए थे. राहुल गांधी ने भी इस दौरान केंद्र पर हमला भी बोला था.

मेघालय के मुख्यमंत्री के घर पर बम से हमला, गृह मंत्री ने दिया इस्तीफा

'डायरेक्ट एक्शन डे' के दिन 'खेला होबे दिवस' मनाएगा बंगाल, जानिए क्या है ममता का प्लान ?

केरल के वरिष्ठ कांग्रेस नेता डीसीसी प्रमुखों के मुद्दे पर राहुल से कर सकते है मुलाकात

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -