Share:
'जीतन मांझी को हमेशा मुख्यमंत्री नीतीश को प्रणाम करके सदन मे जाना चाहिए', बोले गोपाल मंडल
'जीतन मांझी को हमेशा मुख्यमंत्री नीतीश को प्रणाम करके सदन मे जाना चाहिए', बोले गोपाल मंडल

गोपालपुर: अपने विवादित बयानों और हरकतों के कारण अक्सर ख़बरों में रहने वाले जदयू MLA गोपाल मंडल ने एक बार फिर नया बयान दिया है। गोपाल मंडल ने बताया कि वह अपने पास बंदूक क्यों रखते हैं। उन्होंने कहा, 'हम MLA है... कोई बम गोला मारेगा तो सुरक्षाकर्मी देखते रह जाएगा। मेरे पास रहेगा तो हम टनाटन दे देंगे।' स्वयं को फाइटर बताते हुए गोपाल मंडल ने कहा, हम लड़ाकू आदमी है। हम फाइटर है हम लड़ते लड़ते यहां पहुंचे है। पिस्टल का लाइसेंस कैंसल हो गया इसलिए अब दुनालिया बंदूक रखते है।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा सदन जीतनराम मांझी को लेकर दिए बयान का समर्थन करते हुए गोपाल मंडल ने कहा, 'नीतीश जी ने गलत नही कहा है। जीतन मांझी को हमेशा सीएम नीतीश कुमार को प्रणाम करके सदन मे जाना चाहिए। बड़े है मांझी तो क्या हुआ नीतीश जी उनको सीएम बनाए थे।' आपको बता दें कि जदयू विधायक मंडल की दबंगई के किस्से पहले भी वायरल होते रहे हैं। कुछ वक़्त पहले वह मायागंज के जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय में पिस्टल लेकर पहुंच गए थे। उनके साथ सुरक्षा गार्ड भी थे। MLA के हाथ में रिवॉल्वर देख लोग डरे सहमे दिखाई दिए थे। तत्पश्चात, वह वहां से अपने सुरक्षा गार्ड के साथ हाथ में पिस्टल लेकर वापस निकल गए। 

वही इस घटना के पश्चात् जब वह पटना में जदयू दफ्तर पहुंचे तो वहां उपस्थित पत्रकारों ने गोपाल मंडल से पिस्टल लहराने के मामले को लेकर सवाल कर दिया तो वह पत्रकारों पर भड़क गए तथा बोलने लगे, 'हां, हम अभियो (अभी भी) रखे हैं, दिखाएं क्या। क्या कहना चाहते हो... रखते हैं पिस्टल... हम लहराएंगे...। तुम लोग हमारा बाप हो क्या।। भाग... ' MLA गोपाल मंडल कोई पहली बार विवाद में नहीं घिरे हैं बल्कि यू कहें कि वो विवादों के कारण ही ख़बरों में रहते हैं। एक बार जब वह पटना से दिल्ली जा रहे थे तो उनकी एक हरकत पर हंगामा मच गया था। पटना-दिल्ली तेजस ट्रेन से यात्रा के चलते गोपाल मंडल पर अंडरवियर में ट्रेन की बोगी में घूमते दिखाई दिए। जब सहयात्री ने इस बात पर आपत्ति जताई तो उसके साथ गाली-गलौज की तथा गोली मारने की धमकी दी थी। सहयात्री ने ये भी आरोप लगाया था कि गोपाल मंडल ने उन्हें गोली मारने की धमकी दी थी। उन्होंने RPF से शिकायत की थी। शिकायत के पश्चात् उनका कोच बदल दिया गया था।

पंडित धीरेंद्र शास्त्री की रामकथा के दौरान मुस्लिम परिवार ने अपनाया सनातन धर्म, बोले- ;प्रभु श्री राम और श्री कृष्ण...'

सैफई मेडिकल कॉलेज में ‘कमीशन’ के लिए डॉक्टर ने किया जान का सौदा, 600 मरीजों को लगाया नकली पेसमेकर, 200 ने तोड़ा दम

बॉयफ्रेंड का दोस्त बता 16 वर्षीय लड़की को नदी के किनारे ले गए 5 युवक, फिर एक-एक कर पार की हैवानियत की हदें

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -