जिंदगी मुस्कुराएगी

जिंदगी मुस्कुराएगी

मुस्कुराने की वजह न ढूंढ

जिंदगी यूँही ही गुजर जाएगी

कभी बेवजह भी हंस कर देख

जिंदगी तेरे साथ मुस्कुराएगी

मुझे डूबने  दे या तैरना सीखा दे

मुझे अब तू अपनी रजा में रहना सीखा दे

मुझे शिकवा न हो किसी से

ए खुदा मुझे प्यार के बिना जीना सीखा दे