जम्मू कश्मीर के नेता चाहते हैं कि नौजवान मारे जाएं, ताकि दिल्ली पर दबाव बना रहे- सत्यपाल मलिक

जम्मू कश्मीर के नेता चाहते हैं कि नौजवान मारे जाएं, ताकि दिल्ली पर दबाव बना रहे- सत्यपाल मलिक

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बार फिर यह कहकर विवाद को जन्म दे दिया कि राज्य के राजनेता चाहते हैं कि 'नौजवान मारे जाते रहें' ताकि दिल्ली को 'ब्लैकमेल' कर उसपर 'दबाव कायम रखे जा सकें.' अखनूर के जौरियां इलाके में एक किसान मेला को संबोधित करते हुए राज्यपाल ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कश्मीर के लोगों को हर वो वस्तु देने के लिए तत्पर हैं, जो घाटी के लोग संविधान के तहत मांगें, क्योंकि वे प्रदेश के लोगों से प्रेम और उनका आदर करते हैं. 

मोदी सरकार के बजट में केवल जुमले, जनता को नहीं हुआ कोई लाभ - मल्लिकार्जुन खड़गे

सत्यपाल मलिक ने कहा है कि, 'जम्मू-कश्मीर के नेता चाहते हैं कि नौजवानों कि मौत होती रहें, ताकि वे केंद्र सरकार को दबाव में रखा जा सके.' उन्होंने कहा है कि, 'नगर निकाय एवं पंचायत चुनावों के दौरान मेरी तरफ से यह गलतफहमी दूर कर दी गई है और संदेश दिया गया है कि अब नई दिल्ली दबाव में नहीं आने वाली. यदि सामने से गोलियां चलेंगी तो यहां से गुलदस्ते नहीं भेजे जाएंगे.'  

बजट पेश होने से पहले बोले अखिलेश, तैयार हो जाओ, आने वाला है झूठ का पुलिंदा...

सत्यपाल मलिक ने कहा है कि कश्मीर में आतंकियों को मारकर कोई समाधान नहीं खोजा जा सकता. उन्होंने आतंकवादियों से मुख्यधारा में लौटने का भी आग्रह किया. उन्होंने कहा है कि,'मैं इन बच्चों की जान लेने के समर्थन में नहीं हूं, यदि वे वापस लौट आते हैं तो हम उनके लिए काफी कुछ करने के लिए तैयार हैं. हम कोई रास्ता निकालने का प्रयास कर रहे हैं.'  

खबरें और भी:-

 

VIDEO: सिंधिया ने तले समोसे, कहा किसी को मिर्ची लगी हो तो उसके लिए माफ़ी

जींद उपचुनाव के परिणाम से हो गया साबित, भाजपा को नहीं हरा सकती कांग्रेस- अरविन्द केजरीवाल

ट्रम्प और किम जोंग की बैठक तय, अगले हफ्ते होगा जगह और तिथि का ऐलान