कर्नाटक में ईसाई धर्मान्तरण के खिलाफ सड़कों पर उतरा जैन समाज, की कानून बनाने की मांग

बैंगलोर: अवैध धर्मान्तरण के विरोध में कर्नाटक के बेलगावी जिले में जैन समाज ने एक बड़ी रैली का आयोजन किया। इस रैली में जैन समाज के कई संगठनों के पदाधिकारी और धर्मगुरु शामिल हुए। यह रैली गुरुवार (21 अक्टूबर 2021) को निकाली गई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस रैली में बड़ी तादाद में जैन धर्म को मानने वाले लोगों ने भी हिस्सा लिया। यह रैली रानी चेनम्मा सर्किल से शुरू हुई थी और इसका समापन डिप्टी कमिश्नर कार्यालय पर हुआ।

रैली में सामूहिक रूप से कर्नाटक में लगातार बढ़ रहे धर्मांतरण पर चिंता प्रकट की गई। आयोजनकर्ताओं के मुताबिक, कित्तूर, बेलगावी, खानापुर, बाईहोंगल तालुका में बड़े पैमाने पर लोगों को ईसाई बनाया जा रहा है। रैली ने प्रशासन से धर्मान्तरण को सख्ती से रोकने की माँग की। इसी के साथ रैली में मौजूद जैन नेताओं ने सरकार से भी धर्मांतरण की ओर ध्यान देने का अनुरोध किया। DC कार्यालय पर इस आशय के साथ एक ज्ञापन भी सौंपा गया। ज्ञापन में कर्नाटक सरकार से धर्मांतरण कराने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने की माँग की गई है। इसी के साथ रैली में मौजूद जैन नेताओं ने प्रेस वार्ता को भी सम्बोधित किया। रैली में शामिल जैन युवा संगठन के नेता कुण्ठीनाथ कालमणि ने राज्य में धर्मान्तरण विरोधी कानून लागू करने की माँग की। 

उनके मुताबिक, अवैध धर्मान्तरण को रोकने के लिए यह क़ानून अत्यंत आवश्यक है। इस रैली में जैन अंतर्राष्ट्रीय व्यापार संगठन, कर्नाटक जैन एसोशिएशन बंगलुरु, दक्षिण भारत जैन सभा, भारतीय जैन संगठन व कई अन्य समूह शामिल हुए। बता दें कि कर्नाटक के देहात क्षेत्रों में धर्मांतरण अपने चरम पर है। रिपोर्ट के मुताबिक, ईसाई मिशनरियाँ इन इलाकों में लालच और भय दिखाकर व्यापक स्तर पर धर्मान्तरण करवा रही हैं। अल्पसंख्यक कल्याण और अनुसूचित जाति विभाग ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि वो अपने क्षेत्रों में धर्मांतरण में सक्रिय मिशनरियों की तादाद बताएँ।

TDP का बड़ा बयान, कहा- "YSRCP शासन ने एपी को ' भारत का ड्रग हब '...."

अमित शाह आज करेंगे श्रीनगर-शारजाह अंतरराष्ट्रीय उड़ान का उद्घाटन

गिरावट के साथ बंद हुआ बाजार, जानिए क्या है सेंसेक्स का हाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -