शीना बोरा हत्याकांड में जेल से रिहा हुई इन्द्राणी मुखर्जी, कहा- खुला आसमान देखकर अच्छा लगा

नई दिल्ली: शीना बोरा हत्या मामले में इंद्राणी मुखर्जी जमानत की प्रक्रिया पूरी कर शुक्रवार को जेल से रिहा हो गईं. उनकी वकील सना खान उन्हें रिसीव करने के लिए जेल पहुंचीं थीं. जेल से बाहर आने के बाद इंद्राणी मुखर्जी ने कहा कि वे काफी अच्छा महसूस कर रही हैं. आगे उनकी क्या योजना है, इस पर उन्होंने जवाब दिया कि इस संबंध में अभी उन्होंने कुछ सोचा नहीं है. इंद्राणी मुखर्जी ने कहा कि, खुला आसमान दिखा. काफी खुश हूं. इंद्राणी को बुधवार को सर्वोच्च न्यायालय से जमानत मिल गई थी. वे साढ़े छह साल से जेल में कैद थीं.
 
बता दें कि शीना बोरा हत्याकांड एक ऐसा हत्याकांड था, जिसमें जानी-मानी हस्ती इंद्राणी मुखर्जी और उनके पति रहे पीटर मुखर्जी का नाम मुख्य आरोपी के रूप में सामने आया था. इस केस में रिश्तों का पेंच बराबर सामने आते रहा. जिसमें धोखा, झूठ से पैदा हुआ नाजायज रिश्ता और फरेब, उस रिश्ते को छिपाने के लिए की गई एक निर्मम हत्या शामिल थी. मुंबई की हाई सोसायटी में हुआ ये ऑनर किलिंग का पहला केस माना जाता है. ये एक ऐसा मामला था, जिसमें एक मां ने अपनी बेटी की इसलिए हत्या कर दी थी, क्योंकि उसकी बेटी जिस लड़के से प्यार कर बैठी थी, वो रिश्ते में उसका सौतेला भाई लगता था. 

बता दें कि इंद्राणी मुखर्जी देश की एक मशहूर मीडिया शख्सियत थी. करोड़ों रुपयों की मालकिन थी और देश में प्राइवेट टीवी चैनलों को सफल बनाने वाले धुरंधरों में से एक पीटर मुखर्जी की पत्नी थीं. पीटर मुखर्जी के नेतृत्व में स्टार इंडिया देश में किसी सितारे की तरह चमक उठा था. इंद्राणी पीटर की दूसरी पत्नी थी, जबकि इंद्राणी की ये तीसरी शादी थी.

आइए हम 'सभी के लिए स्वच्छ हवा' को एक सहभागी मिशन बनाएं: श्री भूपेन्द्र यादव

बंदरों को ही अपनी संतान मानती है ये बूढी माँ, 8 सालों से लगातार कर रही ये 'भला' काम

फरीदाबाद: बैटरी बनाने वाली कंपनी में भड़क उठी भीषण आग, झुलसकर 3 लोगों की मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -