बालाकोट में फिर सिर उठाने लगा आतंकवाद, फिदायीन हमले का खुफिया अलर्ट

बालाकोट में फिर सिर उठाने लगा आतंकवाद, फिदायीन हमले का खुफिया अलर्ट

इस्लामाबाद:  बालाकोट में एक बार फिर पाकिस्तान सेना और ISI ने आतंक का कंट्रोल रूम खोल दिया है. खुफिया जानकारी के मुताबिक, इस आतंकी कंट्रोल रूम से ट्रेंड आतंकियो को मुजफ्फराबाद के रास्ते घुसपैठ करने के निर्देश दिए जा रहे है. पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के अफगानिस्तान में तैनात आतंकियों को धीरे-धीरे जम्मू कश्मीर की तरफ शिफ्ट करने में लगा हुआ है.

खुफिय रिपोर्ट में दावा किया गया है कि बालाकोट में बड़े फिदायीन हमले की तैयारी की जा रही है. बालाकोट में एक बार फिर से जैश के आतंकी कैंपों को भारी तादाद में सक्रिय कर दिया गया. आतंकी कमांडर जुबैर ने बालाकोट में जैश के फिदायीन आतंकियों को एक बार फिर से प्रशिक्षण देना शुरू कर दिया है. बताया जा रहा है कि जैश कमांडर ज़ुबैर, बालाकोट के साथ ही अफगानिस्तान में भी तालिबानियों के साथ काफी सक्रिय रहा है. पाकिस्तान सरकार ने आतंकी संगठन लश्कर और जैश जैसे संगठनों से संबंधित चैरिटबल संगठनों पर लगी पाबंदियों में रियायत भी दी है. बालाकोट के प्रशिक्षण शिविरों में फिदायीन हमले के लिए आतंकी भर्ती किए जाते हैं.

मुज्जफराबाद के 'सवाई नाला'  में मौजूद जैश के दफ्तर में सबसे पहले आतंकियों तजकियां देकर फिदायीन बनने के लिए तैयार किया जा रहा है. खुफिया रिपोर्ट के अनुसार, जैश के अल रहमत ट्रस्ट के माध्यम से ट्रेनिंग के दौरान आतंकियो को पैसे दिए जा रहे हैं.

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास का बड़ा बयान, अर्थव्यवस्था के पुनरुथान को लेकर कही ये बात

असम सीएम सोनोवाल ने पर्यटकों के लिए खोला काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान

इस त्योहारी सीजन में फ्लिपकार्ट कर रही है प्रति सेकंड 110 उत्पाद की बिक्री