Share:
ब्रिटेन को पछाड़कर दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी इकॉनमी बना भारत, GDP में भी उछाल
ब्रिटेन को पछाड़कर दुनिया की पांचवी सबसे बड़ी इकॉनमी बना भारत, GDP में भी उछाल

नई दिल्ली: अर्थव्यवस्था (Economy) के मोर्चे पर भारत ने बड़ा मुकाम हासिल किया है। अब भारत ब्रिटेन को पछाड़कर विश्व की 5वीं सबसे बड़ी इकॉनमी बन गया है। ब्रिटेन पांचवें स्थान से फिसलकर छठे पायदान पर पहुंच गया है। ब्रिटेन इस समय जीवन-यापन की लागत बढ़ने के कारण मुश्किल दौर का सामना कर रहा है। ऐसे में उसका छठे स्थान पर फिसलना, UK सरकार के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। कभी ब्रिटिश उपनिवेश रहा भारत 2021 के अंतिम तीन महीनों में ब्रिटेन को पछाड़ते हुए विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी इकॉनमी बन गया है। बता दें कि, अर्थव्यवस्था की यह गणना अमेरिकी डॉलर के आधार पर की गई है।

इसके साथ ही अंतराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) के आंकड़ों के मुताबिक, जीडीपी (GDP) के आंकड़ों के आधार पर भारत ने पहली तिमाही में अपनी बढ़त और मजबूत कर ली है। वहीं, अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर ब्रिटेन का फिसलना, UK की भावी सरकार के लिए बड़ा झटका होगा। ब्रिटेन में कंजरवेटिव पार्टी के सदस्य जल्द ही नया प्रधानमंत्री चुनने वाले हैं। ऐसे में नई सरकार के लिए महंगाई और सुस्त इकॉनमी सबसे बड़ी चुनौती होगी। दूसरी ओर एक्सपर्ट्स का मानना है कि मौजूदा वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था की विकास दर 7 फीसदी से ऊपर रह सकती है।

यदि, भारत और ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था को डॉलर में देखें, तो IMF के आंकड़ों के मुताबिक, मार्च की तिमाही में भारत की इकॉनमी 854.7 अरब डॉलर थी। वहीं, ब्रिटेन की 816 अरब डॉलर पर था। आंकड़े ही बता रहे हैं कि भले ही पूरे विश्व की अर्थव्यवस्थाएं मंदी (Global Recession) और महंगाई (Inflation) की मार झेल रहीं हों, मगर भारतीय अर्थव्यवस्था तमाम चुनौतियों को पार करते हुए तेज रफ्तार से आगे बढ़ रही है। 

जून की तिमाही का आंकड़ा:-

इस हफ्ते जारी पहली तिमाही के GDP के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, जून 2022 तिमाही में भारतीय इकॉनमी में 13.5 फीसदी की शानदार दर से वृद्धि हुई है। तमाम अनुमान भी भारत से इसी प्रकार के आंकड़े की उम्मीद कर रहे थे। जून तिमाही के दौरान अमेरिकी GDP में 0.6 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई।  इससे पहले मार्च तिमाही में अमेरिकी अर्थव्यवस्था का आकार 1.6 फीसदी घट गया था। 

भारतीय अर्थव्यवस्था की ग्रोथ :-

बता दें कि इससे पहले वित्त वर्ष 2021-22 (Q4FY22) की चौथी तिमाही में भारत का सकल घरेलू उत्पाद (GDP) में 4.1 फीसदी की दर से वृद्धि हुई थी। पूरे वित्त वर्ष की बात करें तो 2021-22 के दौरान GDP की ग्रोथ रेट 8.7 फीसदी दर्ज की गई थी। नेशनल स्टैटिस्टिकल ऑफिस (NSO) के आंकड़ों के मुताबिक, जून 2022 तिमाही में भारतीय अर्धव्यवस्था की ग्रोथ रेट 13.5 फीसदी रही थी। 

'नेशनल हेराल्ड की जांच हुई तो बड़ा खुलासा होगा..', कांग्रेस CM ने सालों पहले देख लिया था 'घोटाला'

बिहार में अब BPSC छात्रों पर बरसीं पुलिस की लाठियां, नितीश-तेजस्वी के राज में युवा फिर लहूलुहान

नोएडा: मेले में करंट लगने से एक बच्चे की मौत, दूसरा बच्चा घायल

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -