इस तरह पाएं महामृत्युंजय मन्त्र से समृद्धि


भगवान शिव को भोले भंडारी भी कहा जाता है क्योंकि वो अपने भक्तों पर जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं. जटाधारी शिव शंकर को प्रसन्न करने में किसी भी मनुष्य को कठिनाईयों का सामना नहीं करना पड़ता है. यदि आप भी महादेव को प्रसन्न करना चाहते है तो अभी से महामृत्युंजय मंत्र का जाप करके वरदानस्वरूप अपना मन चाहा फल प्राप्त कर सकते है. 

पूरे संसार में महादेव से ज्यादा पूज्यनीय और कोई नहीं है. महादेव के महामृत्युंजय मंत्र को महामंत्र कहा जाता है.इसमें भगवान शिव के महामृत्युंजय रूप से लंबी आयु की प्रार्थना की जाती है. यह मंत्र कई तरह से प्रयोग में लाया जाता है. इस मंत्र का जाप करने मात्र से व्यक्ति की सारी चिंताएं प्रभु तुरंत दूर कर देते हैं और व्यक्ति सफलता की सीढ़ी चढ़ता जाता है.

 महामृत्युंजय मंत्र :

ऊॅ हौं जूं सः ऊॅ भूः भुवः स्वः 

ऊॅ त्रयम्बकं यजामहे सुगन्धिं पुष्टिवर्धनम्

उव्र्वारूकमिव बन्धनान्मृत्योर्मुक्षीय मामृतात्

 ऊॅ स्वः भुवः भूः ऊॅ ऊॅ सः जूं हौ

इस मंत्र का जाप करते समय विशेष  सावधानियाँ  रखना बेहद जरूरी होता है. मंत्र का जाप  शुद्धता के साथ करना चाहिए क्योंकि एक शब्द की गलती भी आपको भारी पड़ सकती है. जाप करते समय धूप-दीप जलते रहना चाहिए. इस मंत्र का जाप केवल रुद्राक्ष माला से ही करे.

रविवार को सूर्य के इस मन्त्र के जाप से मिलती है सफलता

श्रीराम जी की इस तस्वीर से बढ़ता है पति-पत्नी में प्रेम

जानिए छोटे बच्चों से जुड़ी परेशानियों का घरेलू उपाय

जानिए इस देवता को क्यों मिला कुंवारेपन का श्राप

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -