बिहार: FIR के लिए 4 घंटे बैठे IAS सुधीर कुमार, लालू बोले- 'बिहार को सर्कस बना दिया'

पटनाः आईएएस अधिकारी सुधीर कुमार को चार घंटे तक एक एफआईआर के लिए थाने में बैठा रहने पड़ा और अब इस मामले में आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री पर तंज कसा है। हाल ही में लालू यादव ने एक बयान देते हुए कहा, 'नीतीश कुमार ने बिहार को सर्कस बना दिया है।' जी दरअसल उन्होंने एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में उन्होंने लिखा है, "नीतीश कुमार द्वारा कुचक्र रच अनुसूचित जाति वर्ग के कर्मठ अपर मुख्य सचिव के साथ ऐसा सलूक करना और स्वयं सहित भ्रष्ट अधिकारियों को बचाना नीतीश कुमार के असल चाल चरित्र और चेहरे को उजागर करता है।"

आपको बता दें कि लालू प्रसाद यादव का तंज एक आईएएस अधिकारी को चार घंटे तक थाने में बैठाए जाने को लेकर था। जी दरअसल बीते शनिवार को पटना के गर्दनीबाग स्थित एससी-एसटी थाने में अपनी शिकायत दर्ज कराने के लिए सुधीर कुमार पहुंचे थे। ऐसे में यहां उनका आवेदन तो ले लिया गया लेकिन उन्हें चार घंटे तक बैठा रहना पड़ा और उसके बाद भी प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी थी। वहीँ आवेदन लेने के बाद थानेदार वहां से निकलकर कहीं चला गया। इस मामले में खुद सुधीर कुमार ने कहा, 'मैं शनिवार को 12 बजे थाना पहुंचा लेकिन शाम के चार बज गए फिर भी एफआईआर दर्ज नहीं की गई। बीते पांच मार्च को मैं एफआईआर दर्ज कराने के लिए शास्‍त्रीनगर थाना गया था और वहां भी मुहर मारकर रिसिविंग दे दी गई गई। उस मामले में भी कुछ नहीं हुआ। एफआईआर नहीं दर्ज करने के पीछे थानेदार का कहना है कि उन्‍हें अंग्रेजी समझ नहीं आती है।''

इस मामले में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सरकार पर सवाल उठाए हैं। तेजस्वी का कहना है, 'एक मुख्य सचिव स्तर का अधिकारी पूरे सबूतों के साथ मुख्यमंत्री और उनके अधिकारियों पर एफआईआर करने पहुंचता है लेकिन एफआईआर नहीं होती है। शिकायत दर्ज कर ली फिर पता चल जाएगा कि क्या मामला है। इसमें डर किस बात का है। इस मामले में तो मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सामने आकर सब बताना चाहिए।'

पुलिस अफसरों के साथ बैठक से पहले राकेश टिकैत ने किया ट्वीट, कहा- 22 जुलाई से किसान करेंगे।।।

गोवा: घोषित हुए कक्षा 12वीं के परिणाम

बस स्टॉप पर बैग लेकर खड़े थे 5 लोग, पुलिस की चेकिंग पर निकली ऐसी चीज की रह गए सब दंग

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -