गृह मंत्रालय ने चुनाव के बाद हिंसा पर रिपोर्ट के लिए बंगाल सरकार से की मुलाकात

May 04 2021 10:33 AM
गृह मंत्रालय ने चुनाव के बाद हिंसा पर रिपोर्ट के लिए बंगाल सरकार से की मुलाकात

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कहा कि कथित घटनाओं को लेकर पश्चिम बंगाल सरकार से रिपोर्ट मांगी गई है। राज्य में "विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं के खिलाफ चुनाव के बाद हिंसा" के कारण पार्टी के सदस्यों की मौत हो गई है। गृह मंत्रालय ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर पोस्ट करते हुए लिखा है, गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से राज्य में विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं को निशाना बनाते हुए चुनाव के बाद हिंसा पर रिपोर्ट मांगी है। 

आठ चरणों में हुए विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तृणमूल कांग्रेस के बह जाने के बाद राजनीतिक कार्यकर्ताओं पर कथित हमलों की खबरें सामने आने के बाद है। पिछले दिनों पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने राज्य के पुलिस महानिदेशक को 'चिंताजनक' कानून व्यवस्था की स्थिति को लेकर तलब किया था। भाजपा की राज्य इकाई के प्रमुख दिलीप घोष ने एएनआई से बात करते हुए दावा किया कि पश्चिम बंगाल में चुनाव के बाद हुई हिंसा के 24 घंटे के भीतर उसके नौ कार्यकर्ताओं की जान चली गई। 

केंद्र में सरकार बनने वाली भाजपा ने 77 सीटें जीती थीं, जिसके लिए रविवार को वोटों की गिनती की गई। इस बीच, भारतीय चुनाव आयोग की वेबसाइट के अनुसार 294 सीटों से टीएमसी ने 213 सीटें जीतीं। भाजपा ने हिंसा के लिए टीएमसी को दोषी ठहराया है। बनर्जी बुधवार को तीसरे कार्यकाल के लिए शपथ लेंगे। अपनी पार्टी की जीत के बावजूद नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र से उनके पूर्व करीबी सहयोगी भाजपा के सुवेंदु अधिकारी के करीबी मुकाबले में उन्हें हार मिली।

सोनू सूद के सपोर्ट में आई प्रियंका चोपड़ा, सरकार से की ये अपील

बड़ी खबर: भारत में कम हो रहे कोरोना संक्रमण के मामले, जानिए क्या रहा 24 घंटे का हाल

देशभर में कोरोना से बढ़तर हो रहे हाल, अब तक अब तक 34 लाख के पार हुआ संक्रमितों का आंकड़ा