यहां होलिका दहन के समय लोग उतार देते हैं अपने कपड़े और करते हैं ऐसा काम

होली का त्यौहार आ गया है और सभी लोग इसे धूमधाम से सेलिब्रेट करते हैं. होली को हर कोई बहुत ही रंगारंग तरह से मनाते है ऐसे में होली के एक दिन पहले होलिका दहन किया जाता है जो सभी जगहों पर बहुत ही मस्तमौला होकर किया जाता है. होली को लेकर हमारे देश में कई ऐसी परम्पराएं हैं जो हैरान करने वाली हैं. आज हम आपको एक ऐसी ही परंपरा के बारे में बताने जा रहें है जहां पर होली के दिन लोग अपने कपड़े उतार देते हैं. जी हां... सुनकर भले ही आप हैरान हो गए हो लेकिन ये सच है.

हम बात कर रहें है आजमगढ़ की जहाँ पर होलिका दहन एक अलग ही तरीके से किया जाता है. दरअसल आजमगढ़ में होलिका दहन के दिन एक अजीब सी प्रथा को अपनाया जाता है. यहाँ पर इस दिन बिना कपड़ो के होलिका दहन किया जाता है और लोग आग में लिट्टी को सेकते है. इस जगह पर लिट्टी को सेककर खाने के लिए कई विदेशो से भी लोग आते है. होलिका दहन में बिना कपड़ो के लिट्टी को सेककर खाना यहाँ पर काफी शुभ माना जाता है. यहाँ के लोगो का मानना है कि ऐसा करने से बड़े से बड़े रोग दूर हो जाते है.

बता दें सिकी हुई लिट्टी खाने से मिर्गी जैसी रोगो से निजात मिलती है. यहाँ पर होलिका दहन के वक्त लोग कपड़े उतारकर लिट्टी सेकते है और उसके बाद उसे खाते है, साथ ही इस बात का ध्यान भी रखा जाता है कि आस पास कोई ना हो और सभी सुनसान हो. साथ ही ये लिट्टी पुरे गाँव में भी बांटी जाती है. इतना ही नहीं बल्कि इस गांव में तो ये भी माना जाता है कि अगर कोई विदेशी लिट्टी खाता है तो उसके बाद वो गाँव का कुछ ना खाए ना पिए तभी उसे लाभ होगा.

आप भी उठा सकते हैं 90 किलो के इस पत्थर को, लेकिन जान लें ये रहस्य

पाकिस्तानी आदमी ने बोला- 'हिंदुस्तानियों से अकेले निपटने जा रहा हूं', लोगों ने उड़ाया मजाक

क्या आप जानते हैं काली रोटी के फायदे!

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -