हार्दिक पटेल का 'हिन्दू प्रेम' जागा, बोले- कांग्रेस ने मेरे 3 साल बर्बाद कर दिए

अहमदाबाद: कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा देने के एक दिन बाद पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने गुरुवार को कहा कि उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने के बारे में कोई विचार नहीं किया है, मगर लोगों से इतना जरूर कहा है कि कांग्रेस को वोट न दें। उन्होंने कहा कि पार्टी ने कभी हिंदुओं के बारे में बात नहीं की, पार्टी केवल जाति आधारित सियासत करना चाहती है। 

बता दें कि 2017 के चुनाव में हार्दिक पटेल लोगों से कांग्रेस के लिए वोट मांगते थे, हालांकि उन्होंने अब कहा कि लोगों को कांग्रेस को वोट नहीं देना चाहिए। पटेल ने आगे कहा कि, कांग्रेस ने कभी हिंदुओं के मुद्दे पर समर्थन नहीं दिया। न तो नागरिकता संशोधन कानून (CAA) पर खुलकर सामने आई और न ही वाराणसी की मस्जिद में मिले 'शिवलिंग' पर समर्थन किया। कांग्रेस केवल जाति आधारित सियासत जानती हैं। मैंने इस पार्टी में रहकर तीन साल बर्बाद कर दिए।

बता दें कि हार्दिक पटेल ने 2019 में कांग्रेस का दामन थामा था और 2020 में उन्हें कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया गया था। हार्दिक पटेल ने बुधवार को कांग्रेस पार्टी से त्यागपत्र दे दिया। उन्होंने एक पेज का इस्तीफा लिखा था। इसमें हार्दिक पटेल ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की आलोचना भी की थी। उन्होंने कहा था कि वे गुजरात और गुजराती लोगों से नफरत करते हैं। वहीं एक भाजपा नेता ने कहा है कि हार्दिक पटेल भाजपा के साथ चर्चा कर रहे हैं। 

सुनील जाखड़ ने थामा भाजपा का दामन, आखिर 'कांग्रेस' से क्यों तोड़ा 50 साल पुराना रिश्ता ?

हाथी पर चढ़कर सिद्धू ने महंगाई के खिलाफ किया प्रदर्शन, केंद्र सरकार को जमकर घेरा

कांग्रेस के बाद अब राजस्थान में जुटेंगे भाजपा नेता, पार्टी की हाई लेवल मीटिंग में शामिल होंगे डॉ रमन सिंह

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -