कॉल ड्राप से निजात के लिए कम्पनियों के पास 15 दिन का समय

कॉल ड्राप से निजात के लिए कम्पनियों के पास 15 दिन का समय

नई दिल्ली : देशभर में लगातार कॉल ड्राप की समस्या बढ़ती ही जा रही है और ऐसे में उपभोक्ताओं को कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. लेकिन अब इस कॉल ड्राप की समस्या को लेकर भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण(ट्राई) ने यह कहा है कि मोबाइल कम्पनियों को इस समस्या के लिए जल्द से जल्द समाधान ढूंढने होंगे. इसके तहत ट्राई ने मोबाइल कम्पनियों को 15 दिनों का समय देते हुए यह कहा गया है कि 15 दिनों के बाद कॉल ड्राप और कम्पनी के काम को लेकर समीक्षा की जाना है और अगर उसके बाद भी कम्पनी के हालात में किसी तरह का सुधार नहीं पाया जाता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी.

भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के द्वारा एक बैठक का आयोजन भी किया गया था जिसमे भारती एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया और रिलायंस कम्युनिकेशंस सहित कई अन्य ऑपरेटर्स को कड़े सन्देश दिए गए है. मामले में दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद का यह कहना है कि यदि कॉल ड्राप की समस्या को लेकर कोई सुधार नहीं किया जाता है तो इस बारे में जुर्माना लगाया जा सकता है.