ईंधन की कीमतों का दीर्घकालिक समाधान करेगी सरकार

नई दिल्ली : पेट्रोल, डीजल के दाम लगातार 10वें दिन बढ़ने और लगातार बदलाव से चिंतित केंद्र सरकार ने दीर्घकालिक समाधान करने का फैसला किया है .प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में हुई केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक के बाद कानून एवं आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने यह बात कही.

बता दें कि सरकार ने गत वर्ष जून में हर पखवाड़े पेट्रोल, डीजल के दाम में संशोधन की 15 साल पुरानी व्यवस्था को खत्म कर अंतरराष्ट्रीय बाजार के अनुरूप हर दिन दाम में फेरबदल की शुरुआत की थी .लेकिन कर्नाटक चुनाव के समय इसे रोक दिया था. मतदान के बाद 14 मई से अब तक पिछले नौ दिन में पेट्रोल का दाम 2.54 रुपये और डीजल का दाम 2.41 रुपये लीटर बढ़ चुका है.

इस बारे में कानून एवं आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि ईंधन के दाम में लगातार होने वाली वृद्धि चिंता और बहस का विषय है. सरकार तत्कालीन उपाय करने के बजाय दीर्घकालिक निदान करने पर जोर दे रही है ,ताकि न केवल ईंधन मूल्य की घटबढ़ से निजात मिले, बल्कि समय-समय पर होने वाली घटबढ़ से जो अनावश्यक परेशानी होती है उससे भी छुटकारा मिले. शुल्क कटौती अथवा दूसरे उपायों के बारे में उन्होंने बताने से इंकार कर दिया.पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम के सुझाव पर प्रसाद ने मीडिया से पूछा कि चिदंबरम का गणित इतना मजबूत है तो फिर उनकी सरकार सत्ता से कैसे बाहर हो गई.

यह भी देखें

इस देश में मात्र 65 पैसे में मिल रहा एक लीटर पेट्रोल

तेल की कीमतों पर वरिष्ठ मंत्रियों की बैठक आज

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -