सिविल सेवा परीक्षा में सरकार करेगी बदलाव!

नई दिल्ली: संघ लोक सेवा आयोग की प्रतियोगी परीक्षा में दायर होने वाले अभ्यर्थियों के लिए यह खुशी की बात हो सकती है कि सिविल सर्विस परीक्षाओं में परीक्षार्थियों को आयु सीमा में बदलाव, योग्यता और इसकी परीक्षा पद्धति में परिवर्तन जैसे मसलों पर जल्द ही चर्चा की जाएगी। इसके लिए सरकार द्वारा एक विशेष कमिटी का गठन किया जाएगा। इस समिति का नेतृत्व छत्तीसगढ़ कैडर के अधिकारी बीएस बसवान करेंगे। समिति में नौकरशाह, शिक्षाविद्, तकनीकीविद् आदि शामिल होंगे।  केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने इसके लिए पहल की है। इस मामले में उन्होंने कहा है कि इस परीक्षा में बदलाव की बात की जा रही थी।

सरकार ने अब इसमें बदलाव की बात पर विचार किया है। इसके लिए विशेष समिति का गठन किया जा रहा है। इस माध्यम से सबसे पहले यही प्रयास किए जाऐंगे कि इसमें गणित, अभियांत्रिकी, चिकित्सा और ऐसे अन्य विषयों को लेकर दाखिल होने वाले परीक्षार्थियों और कला क्षेत्र के विभिन्न विषयों के परीक्षर्थियों को समान अवसर दिए जाऐंगे। मामले में यह कहा जाता है कि कुछ ऐसे विषय होते हैं जिनसे इस प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कुछ कठिन हो जाती है।

इस दौरान यह भी कहा जाता है कि सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा में समान्य अध्ययन प्रश्नपत्र द्वितीय, क्वालिफाईंग पेपर भी इसमें बना रहेगा। मगर परीक्षा में इस बदलाव पर भी विचार होगा कि सी सैट जो कि सामान्य अध्ययन द्वितीय प्रश्नपत्र होता है यह एक क्वालिफाईंग टाईप का होगा। दूसरी ओर इसमें उत्तीर्ण होने के लिए केवल 33  प्रतिशत अंकों की अनिर्वायता होगी। केंद्रीय मंत्री सिंह ने कहा कि इस समिति के गठन पर चर्चा की जा रही है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -