एक छात्रावास में परेशान होकर छात्राएं पहुँची कलेक्टर के पास

Jan 28 2016 11:51 AM
एक छात्रावास में परेशान होकर छात्राएं पहुँची कलेक्टर के पास

बारीपद : ये हमारे देश का दुर्भाग्य ही हैं कि आज भी इस देश में छोंटी सोंच वाले लोग रहते हैं। जिनकी वजह से लोंगों को परेशान होना पड़ता हैं। इसका एक उदाहरण ओड़ीशा अंतर्गत बारीपद में देखने को मिला। जहां कुछ लोगो की वजह से अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति छात्राओं कों छात्रावास में हो रही परेशानी की वजह से कलेक्टर से मिलने के लिए 25 किलोमीटर का पैदल सफर तय करना पड़ा। दरअसल बात ये हैं की बारिपद में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति द्वारा संचालित पकाटिया राजकीय उच्चतर विद्यालय की करीब 107 लड़कियाँ मयूरभंज ओड़ीशा के जिला कलेक्टर से मिलने लगभग 25 किलोमीटर का सफर पैदल तय करके पहुंची।

तथा उन्होने कलेक्ट्रेट के सामने धरना दिया। जब कलेक्टर उनसे मिलने आए तो उन्होने बताया कि उनके साथ हॉस्टल के अधिकारियों द्वारा गलत व्यवहार किया जाता हैं। तथा वहाँ खाना भी अच्छा नही दिया जाता हैं। और इसकी शिकायत करने पर उनके साथ गलत व्यवहार करते हैं। और स्कूल में पढ़ाई की व्यवस्था भी अच्छी नही हैं।

आगे छात्राओ ने बताया की आज जब उनके साथ हद कर दी गयी तभी वो स्कूल से निकल आईं और 25 किलोमीटर पैदल चलकर आ गयी। इस दौरान पुलिस ने उन्हें समझाने की भी कोशिश की किन्तु वो अपनी जिद पर अड़ी रहीं। अंत में पुलिस सुरक्षा में कलेक्टर ऑफिस पहुँची। छात्राओ की शिकायत सुन कलेक्टर नें उन्हें पूर्ण कार्यवाही का आश्वासन दिया हैं। इस पूरे घटनाक्रम में पुलिस अधिकारी गदाधर प्रधानी व अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। तथा बाद में लड़कियों को पूर्ण सुरक्षा के साथ वापस उनके हॉस्टल भेज दिया गया।