शहीदों के शवों की ऐसी हालत देख गंभीर हुए गौतम, कहा यह....

नई दिल्ली: इंडिया के बेहतरीन क्रिकेट प्लेयर गौतम गंभीर जितना क्रिकट से जुड़े हुए है, उतना ही वे समाजसेवा और देशभक्ति के रंग में रंगे हुए है. ऐसे में हाल में टीम इंडिया से बाहर चल रहे  सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने सोशल मिडिया पर वायरल हो रहे शहीदों के शवों को गत्तों व प्लास्टिक बैग में लपेटकर लाये जाने पर अपना गुस्सा जाहिर किया है. गौतम गंभीर ने ट्वीट करते हुए कहा कि "IAF क्रैश के शहीदों के शव...शर्मनाक! माफ़ करना ऐ दोस्त, जिस कपड़े से तुम्हारा कफ़न सिलना था वो अभी किसी का बंद गला सिलने के काम आ रहा है.

बता दे कि हाल में दो दिन पूर्व तावंग में वायुसेना का हेलिकाॅप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. तवांग का यह क्षेत्र चीन सीमा के काफी करीब है. एमआई 17 हेलिकाॅप्टर की इस दुर्घटना में वायुसेना के 5 जवान और थल सेना के 2 जवान शहीद हो गए थे. हादसे में प्रभावितों के शवों को गत्तों व प्लास्टिक बैग में लपेटकर लाया गया था. जिसके बाद जहा पुरे देश में इस घटना का विरोध किया जा रहा है. वही इसे शर्मनाक हरकत बताया जा रहा है. 

हालांकि कथित तौर पर, सेना ने अपनी ओर से कहा है कि, तवांग जैसे दुर्गम क्षेत्र से इन सैनिकों के शवों को लाना बेहद मुश्किल था. सीमित संसाधनों के साथ सैनिकों के शवों को गुवाहाटी लाना था. यह बेहद मुश्किल था. करीब 13 हजार फीट की हाईट से शवों को लाना आसान नहीं था. इसलिए गत्तों व प्लास्टिक बैग का उपयोग किया गया. शवों के गुवाहाटी पहुंचाए जाने के बाद, वहां सैन्य चिकित्सालय में सभी औपचारिकताऐं पूरी की गईं. बाद में इन शवों को सैन्य सम्मान के साथ लकड़ी के ताबूत में रखवा दिया गया था.

WWE Hell In a Cell 2017 का परिणाम

कुछ इस अंदाज में हुआ गुवाहाटी में खिलाड़ियों का स्वागत देखकर आप भी कहेंगे, वाह भाई वाह.....

IND VS AUS: भारत की नजरे अब दूसरे T20 पर

कल गुवाहाटी में कंगारुओं को फिर से हराने उतरेगी टीम इंडिया

'मैंने नहीं दिया यो यो टेस्ट' - अमित मिश्रा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -