'नेशनल मीट फ्री डे' घोषित हो गांधी जयंती, PETA ने पीएम मोदी को लिखा पत्र

नई दिल्ली: पीपुल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स इंडिया (PETA) ने पीएम नरेंद्र मोदी से महात्मा गांधी के 'अहिंसा के प्रति समर्पण' का सम्मान करने के लिए 2 अक्टूबर को 'नेशनल मीट फ्री डे' घोषित करने का अनुरोध किया है. पीएम मोदी जो खुद शाकाहारी हैं, को लिखे गए पत्र में PETA ने कहा है कि,  शाकाहारी होना गांधी के लिए नैतिक सिद्धांत का मसला था. 

PETA ने लिखा कि हमारे देश के लोगों को गांधी के नैतिक उदाहरण का पालन करने के लिए प्रेरित करना संवेदनशील जानवरों को पिंजरे में बंद करना, उन्हें उनके बच्चों से अलग करना और उनके शरीर के अंगों के लिए उनकी हत्या होने से बचाएगा. PETA इंडिया के CEO मनीलाल वलियते ने पीएम मोदी को लिखे गए पत्र में कहा कि, शाकाहारी भोजन को बढ़ावा देने वाली परंपरा आरंभ करना गांधी के अथक प्रभाव को श्रद्धांजलि अर्पित करने का एक तरीका है. 

PETA ने आगे कहा कि, मांस ना खाने से कैंसर, हृदय रोग, मधुमेह और मोटापे का खतरा भी कम होता है. अपने पत्र में PETA ने कहा कि, इससे ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करके जलवायु परिवर्तन से लड़ने में सहायता मिलती है. साथ ही मांस छोड़ना भविष्य की महामारियों को रोकने में भी सहायक होगा. 

नेशनल लेवल के शूटर नमानवीर सिंह बरार की संदिग्ध मौत, शरीर पर गोली के निशान मौजूद

बख्तियारपुर का नाम बादलने की मांग पर सीएम नितीश ने तोड़ी चुप्पी, दिया बड़ा बयान

2014 के मनी लॉन्डरिंग मामले में AAP को ED का नोटिस, भड़की 'आप' ने केंद्र सरकार को घेरा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -