पूर्व बिशप ने ली हाई कोर्ट की शरण, इस तारीख को होगी सुनवाई

जबलपुर/ब्यूरो। स्कूलों फीस में घोटाला करने के अलावा अन्य अनियमितताओं में ईओडब्ल्यू की कार्रवाई और जांच में फंसने के बाद जेल में बंद पूर्व बिशप ने मध्य प्रदेश हाई कोर्ट की शरण ली। जेल में बंद बिशप ने हाई कोर्ट में जमानत अर्जी दायर की है। सोमवार को पूर्व बिशप की ज़मानत अर्जी पर प्रारम्भिक सुनवाई हुई। 

इस पर ईओडब्ल्यू ने पूर्व बिशप को जमानत देने का विरोध किया। ईओडब्ल्यू ने कहा, जमानत दिए जाने पर पूर्व बिशप साक्ष्य को प्रभावित कर सकते हैं। इसके बाद हाई कोर्ट ने ईओडब्ल्यू से केस डायरी तलब की। इस मामले की अगली सुनवाई 30 सितंबर को होगी। करोड़ों रुपये के फर्जीवाड़े में फंसे द बोर्ड आफ एजुकेशन चर्च आफ नार्थ इंडिया जबलपुर डायोसिस के चेयरमैन बिशप पीसी सिंह को जर्मनी से देश लौटते ही नागपुर एयरपोर्ट से ईओडब्ल्यू ने हिरासत में लिया गया था। 

आरोपि बिशप के ठिकानों से ईओडब्ल्यू की टीम को नकदी, जेवर के अलावा बिशप पीसी सिंह के 10 सावधि जमा (एफडीआर) और मिले हैं, जिनमें 2 करोड़, 2 लाख, 95 हजार 190 रुपए जमा है। इसके अलावा उसके विभिन्न बैंकों में कुल 174 खातों का पता चला, जिनमें से पीसी सिंह के स्वयं के नाम पर, उसके परिजनों एवं संस्थाओं के 128 बैंक खाते हैं। जबकि 46 खाते शैक्षणिक संस्थाओं के नाम पर हैं।

सात साल की बच्ची की हत्या का मामला, आरोपी को सजा दिलवाने के लिए कड़े साक्ष्य एकत्र

तुम मेरी नहीं हुई तो मैं तुम्हें किसी और की भी नहीं होने दूंगा, कुछ इस तरह की धमकियां देता था मनचला

सीएम शिवराज ने अनूपपुर जिले के अधिकारीयों की ली बैठक

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -