यूपी सरकार की नकली वेबसाइट बनाकर अयोध्या मुद्दे पर फर्जी पोल

लखनऊ. अयोध्या में विवादित बाबरी मस्जिद वाली जमीन को लेकर जाली वेबसाइट बनाने का मामला सामने आया है. विवादित भूमि पर उत्तरप्रदेश सरकार की नकली वेबसाइट बनाकर पब्लिक ओपिनियन पोल कराए जाने का फर्जीवाड़े का पर्दाफाश हुआ है. विशेष बात ये है कि वेबसाइट पर किसी नाम का जिक्र नहीं किया गया है किन्तु इस पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तस्वीर जरूर लगी है. http://ayodhya-issue.gov-up.in/ यूआरएल वाली इस वेबसाइट में अयोध्या मुद्दे पर जनता से राय मांगी गई है.

प्रारम्भ में इस वेबसाइट को उत्तरप्रदेश सरकार की वेबसाइट के तौर पर प्रचारित किया गया किन्तु जांच करने के बाद इसकी हकीकत सामने आ गई. यद्यपि इस दौरान काफी संख्या में लोगों ने इस पर अपनी प्रतिक्रिया दे दी. इतना ही नहीं यह वेबसाइट सोशल मीडिया पर भी जल्द ही यह वायरल होने लगी. इसमें राम मंदिर वाले मुद्दे पर अंग्रेजी में पोल किया गया हुई.

इसमें चार विकल्प दिए गए थे. पहला यह कि राम मंदिर को जितने जल्दी हो सके राम जन्मभूमि वाली जगह पर बनाया जाना चाहिए और मस्जिद को कहीं भी बना सकते है. दूसरा यह है कि राम मंदिर और नई मस्जिद को आजु-बाजु में बनाना चाहिए. तीसरा यह कि बाबरी मस्जिद को उसी की जगह बनाया जाना चाहिए और राम मंदिर को उसके पास में ही बनाया जाना चाहिए. चौथा यह कि राम मंदिर के लिए लोगों की भावनाओं को अलग रखकर कानून के अनुसार सुप्रीम कोर्ट को निर्णय लेना चाहिए. जैसे ही इस फर्जीवाड़े की खबर उत्तरप्रदेश सरकार को मिली तब सरकार की और से स्पष्ट कर दिया कि उसकी ओर से ऐसा कोई ओपिनियन पोल नहीं करवाया जा रहा है.

ये भी पढ़े 

24 घंटे के अंदर तैयार करे प्रेजेंटेशन - योगी आदित्यनाथ

अवैध बूचड़खानों की जांच के नाम पर आगजनी न हो दोबारा - योगी आदित्यनाथ

CM योगी आदित्यनाथ के काफिले के वाहन चालकों के लिए रखी गई ऐसी शर्तें

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -