गेंहू भेजने को लेकर भारत से खुश हुआ मिस्त्र, अब 12 अन्य देशों ने भी की मांग

नई दिल्ली: भारत ने गेहूं निर्यात पर बैन के बाद भी गेहूं की एक बड़ी खेप मिस्र (Egypt) को भेजी है. मिस्र के आग्रह के बाद भारत की ओर से 61,500 टन गेहूं मिस्र को भेजा गया है. गेहूं निर्यात पर बैन लगाने के बाद भारत की ओर से ये किसी देश को दी गई सबसे बड़ी खेप है. मिस्र की तरह ही लगभग 12 देशों ने भारत से अनुरोध किया है कि वो उन्हें गेहूं का एक्सपोर्ट करे.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पूरे मामले से अवगत एक अधिकारी ने नाम न छापने का आग्रह करते हुए इस संबंध में जानकारी दी है. उन्होंने बताया है कि कम से कम एक दर्जन देश ऐसे हैं जो भारत से गेहूं के लिए राजनयिक स्तर पर आग्रह कर रहे हैं. मिस्र को जितना गेहूं एक्सपोर्ट किया जाना था, कस्टम ने उसमें से 17,160 टन गेहूं के निर्यात की इजाजत दी है. अधिकारी ने आगे बताया कि भारत की तरफ से एक्सपोर्ट पर बैन लगाने से पहले ही मिस्र को भेजे जा रहे शिपमेंट के लिए क्रेडिट गारंटी समेत अनिवार्य औपचारिकताएं पूरी कर ली गई थीं.

बता दें कि, मिस्र को भारत की ओर से गेहूं की शिपमेंट मेरा इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड कर रहा है. बैन के प्रभावी होने के बाद गेहूं की इस खेप के लिए शिप को कस्टम क्लीयरेंस दिया गया. ये खेप 17 मई को गुजरात के कांडला बंदरगाह से रवाना हो गई थी.

रूसी रूबल , डॉलर के मुकाबले 7% से अधिक बढ़ गया

बीच हवा में बंद हो गया Air India के विमान का इंजन.., घबरा गए यात्री और फिर...

बच्चों को लू से बचाने के लिए सुबह जल्दी शुरू करें स्कूल, शिक्षा निदेशालय ने जारी किया सर्कुलर

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -