WHO एग्जीक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन बने डॉ. हर्षवर्धन ने संभाला पदभार, बोले- चुनौतियों से मिलकर लड़ेंगे

May 22 2020 04:59 PM
WHO एग्जीक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन बने डॉ. हर्षवर्धन ने संभाला पदभार, बोले- चुनौतियों से मिलकर लड़ेंगे

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी से लड़ाई के बीच शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के एग्जीक्यूटिव बोर्ड के चेयरमैन का पदभार ग्रहण कर लिया है। उन्होंने दिल्ली स्थिति WHO के ऑफिस में तमाम औपचारिकताएं पूरी कीं। इससे पहले इस पद पर जापान के डॉक्टर हिरोकी नाकातानी आसीन थे, जो 34 सदस्यीय बोर्ड के चेयरमैन थे।

बता दें कि दुनियाभर में कोरोना वायरस से जंग चल रही है। ऐसे में डॉ. हर्षवर्धन कोरोना से इस लड़ाई में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। पदभार संभालने के बाद डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि मुझे पता है कि वैश्विक महामारी की घड़ी में मैं इस कार्यालय में प्रवेश कर रहा हूं। आने वाले 2 दशकों में कई स्वास्थ्य चुनौतियां होंगी। इन चुनौतियों से हम सब मिलकर लड़ेंगे। इससे पहले 194 देशों की वर्ल्ड हेल्थ असेंबली में भारत की ओर से दाखिल हर्षवर्धन को निर्विरोध चुना गया था। 

आपको बता दें कि डब्ल्यूएचओ के दक्षिण-पूर्व एशिया समूह ने गत वर्ष सर्वसम्मति से फैसला लिया था कि भारत को तीन साल के कार्यकाल के लिए कार्यकारी बोर्ड के लिए चुना जाएगा। बोर्ड के चेयरमैन का पद कई देशों के विभिन्न ग्रुप में एक-एक वर्ष के हिसाब से दिया जाता है। पिछले साल निर्धारित हुआ था कि अगले एक वर्ष के लिए यह पद भारत के पास रहेगा।

रिजर्वेशन काउंटर पर उम्मीद से बेहतर हो रहा काम, शारीरिक दूरी का रखा जा रहा ख्याल

कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा ने पीएम मोदी को दी सलाह, स्वास्थ्य सेवा को ठीक करने का बताया रास्ता

रेलवे के टिकट काउंटर पर उड़ सकती है शारीरिक दूरी की धज्जियां