Share:
कोरोना से कहीं ज्यादा खतरनाक है कैमल फ्लू,  जारी हुआ अलर्ट
कोरोना से कहीं ज्यादा खतरनाक है कैमल फ्लू, जारी हुआ अलर्ट

कतर में चल रहे फीफा विश्व कप (FIFA World Cup) को देखने के लिए दुनियाभर से लोग आ रहे हैं। हालाँकि इन सभी के बीच, स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने यहां से लौट रहे फैंस को चेतावनी दी है। जी दरअसल उनका कहना है कि कतर से लौट रहे लोगों के जरिए ऊंटों में पाया जाने वाला ‘कैमल फ्लू’ (Camel Flu) फैल सकता है। जी हाँ, आपको बता दें कि इस वायरस को कोविड-19 (COVID-19) से भी खतरनाक कहा गया है। केवल यही नहीं बल्कि इस वायरस को लेकर ब्रिटेन ने अलर्ट जारी कर अपने मेडिकल स्टाफ को सतर्क रहने को कहा है। जी दरअसल यूके हेल्थ सिक्योरिटी एजेंसी (यूकेएचएसए) ने डॉक्टरों को सांस लेने में तकलीफ और बुखार से पीड़ित लोगों का पता लगाने को कहा है।

बटर की जगह स्लो पॉइजन तो घर नहीं ला रहे आप? ऐसे करें असली और नकली मक्खन की जांच

जी हाँ, यूकेएचएसए ने कहा कि, “यूके के निवासियों के लिए संक्रमण का जोखिम बहुत कम है, लेकिन इस क्षेत्र के भीतर जोखिम कारकों के संपर्क में आने वालों में इसका खतरा अधिक हो सकता है।” आपको बता दें कि द सन ने यूके की स्वास्थ्य एजेंसी द्वारा भेजे गए एक ब्रीफिंग नोट की सूचना दी है, जिसमें कहा गया है, “स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी और पब्लिक हेल्‍थ टीम कतर से लौट रहे यात्रियों में खासतौर पर मर्स (मिडिल ईस्ट रेस्पिरेटरी सिंड्रोम) वायरस के फैलने की आशंका को लेकर अलर्ट रहें। ब्रिटेन के लोगों में इसके फैलने का खतरा कम है लेकिन जो लोग ऊंटों के संपर्क में आते हैं, उनके अंदर यह ज्यादा हो सकता है। मर्स वायरस ऊंटों के संपर्क में आने या ऊंटों से जुड़े प्रोडक्ट का सेवन करने से फैल सकता है। इसमें ऊंटनी का दूध भी शामिल है।”

हाई ब्लड प्रेशर को कम करता है जैतून का तेल, जानिए इसके चौकाने वाले फायदे

आप सभी को यह भी बता दें कि कतर में इस साल मर्स वायरस के दो मामले सामने आ चुके हैं। जी हाँ और ये दोनों ही लोग ऊंटों के संपर्क में आए थे। वहीं, विश्व कप टूर्नामेंट शुरू होने से पहले, मर्स वायरस की चपेट में आने के डर से प्रशंसकों को जानवरों से दूर रहने की चेतावनी दी गई थी।

क्या है जीका वायरस, जानिए लक्षण और बचाव के तरीके

गर्म कपड़े पहनने पर भी लगती है ठंड तो आपको हो सकती है ये बीमारियां

बीमारियों से रहना है दूर तो इस तरह करें जीभ की सफाई

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -