'पढ़ाई के लिए न जाएं पाकिस्तान, वरना भारत में नहीं मिलेगी जॉब..', मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए नई गाइडलाइन्स जारी

नई दिल्ली: भारतीय मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए नेशनल मेडिकल कमीशन और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया ने एक आवश्यक सूचना जारी की है। सूचना में छात्रों से कहा गया है कि वे पढ़ाई करने के लिए पाकिस्तान न जाएं वरना आप भारत में नौकरी या उच्च शिक्षा के योग्य नहीं होंगे। इससे पहले UGC और AICTE ने भारतीय स्टूडेंट्स को नोटिस जारी करते हुए पाकिस्तान में पढ़ाई न करने की हिदायत दी थी। 

नेशनल मेडिकल कमीशन (NMC) और डेंटल काउंसिल ऑफ इंडिया (DCI) ने भारतीय मेडिकल स्टूडेंट्स को लेकर नई एडवायसरी जारी की है। जिसमें कहा गया है कि, 'सभी छात्रों को सलाह दी जाती है कि वे चिकित्सा/दंत चिकित्सा शिक्षा प्राप्त करने के लिए पाकिस्तान की यात्रा न करें। भारत का कोई भी भारतीय नागरिक/विदेशी नागरिक जो पाकिस्तान के किसी भी मेडिकल डेंटल कॉलेज में MBBS/BDS या इसके  समकक्ष मेडिकल/डेंटल कोर्स में एडमिशन लेने का इच्छुक है, वह भारत मे नौकरी या उच्च शिक्षा का पात्र नहीं होगा।'

नोटिस में छात्रों से आगे कहा गया है कि दिसंबर 2018 से पहले पाकिस्तान डिग्री कॉलेज संस्थानों में शामिल होने वालों को इसमें रियायत दी जाएगी। नोटिस में गृह मंत्रालय के सुरक्षा कारणों का हवाला दिया गया है। हालांकि, प्रवासी और उनके बच्चे जिन्होंने पाकिस्तान में मेडिकल डिग्री या उच्च शिक्षा प्राप्त की है और भारत सरकार द्वारा नागरिकता हासिल कर चुके हैं। वे नेशनल एग्जिट टेस्ट में प्रवेश लेने के लिए पात्र होंगे या सुरक्षा मंजूरी मिलने के बाद भारत में रोजगार पा सकेंगे।

चेन्नई में 5 मई से दो दिवसीय राष्ट्रीय कॉयर सम्मेलन आयोजित किया गया

दो हिन्दू बहनों ने पेश की धार्मिक एकता की अद्भुत मिसाल, ईदगाह बनाने के लिए दान की अपनी 4 बीघा जमीन

14 दिन की न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजे गए सपा के पूर्व MLA वीरेश यादव, 25 साल पुराने मामले में हुई कार्रवाई

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -