Share:
पद्मिनी एकादशी पर भूलकर भी न करें ये 8 गलतियां, वरना भुगतना पड़ेगा भारी अंजाम
पद्मिनी एकादशी पर भूलकर भी न करें ये 8 गलतियां, वरना भुगतना पड़ेगा भारी अंजाम

अधिकमास के शुक्ल पक्ष की एकादशी पर पद्मिनी एकादशी पुरुषोत्तमी एकादशी एवं सुमद्रा एकादशी के नाम से भी जाना जाता है। 3 वर्षों में आने वाली ये एकादशी बहुत ही विशेष होती है, क्योंकि अधिकमास एवं एकादशी दोनों ही विष्णु जी को प्रिय है। इस व्रत से वर्षभर की एकादशियों का पुण्य प्राप्त हो जाता है। इस बार पद्मिनी एकादशी का व्रत 29 जुलाई 2023, दिन शनिवार को रखा जाएगा। पद्मिनी एकादशी जगत के पालनहार भगवान श्रीहरि विष्णु को बहुत प्रिय है। वैसे तो सभी एकादशी भगवान विष्णु को समर्पित हैं, किन्तु अधिक मास में होने के कारण पद्मिनी एकादशी का महत्व और ज्यादा बढ़ जाता है। वही एकादशी पर इन व्रत नियम का जरूर ध्यान रखें... 

एकादशी व्रत नियम:-
1. शास्त्रों के मुताबिक, एकादशी के दिन ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए।
2. एकादशी के दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नान आदि करने के बाद प्रभु श्री विष्णु की पूजा करनी चाहिए।
3. अगर आपने एकादशी व्रत रखा है तो इस दिन आपको अपने क्रोध पर नियंत्रण रखना चाहिए।
4. इस दिन मन में बुरे ख्याल नहीं लाने चाहिए और न ही किसी के बारे में बोलना या सोचना चाहिए।
5. इस दिन गरीबों को दान देना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से जातक को पुण्य की प्राप्ति होती है।
6. मान्यता है कि एकादशी के दिन वृक्ष से पत्ता नहीं तोड़ना चाहिए।
7. एकादशी के दिन बाल और नाखून नहीं काटने चाहिए, मान्यता है कि ऐसा करने से दरिद्रता घर आती है।
8. इस दिन सभी खाद्य वस्तुओं में तुलसीदल मिलाना चाहिए। 

'लगातार ढोल बजाकर लोगों को परेशान करने की अनुमति नहीं दे सकते..', कोलकाता HC ने ममता सरकार को लगाई फटकार

जानिए इस साल किस दिन मनाया जाएगा रक्षाबंधन?

विवाह न होने से है परेशान तो करें ये उपाय, रातो रात आएंगे रिश्ते

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -