दिल थाम के क्यूँ बैठे हो

श्क़ हारा है तो 
दिल थाम के क्यूँ बैठे हो
तुम तो हर बात पे 
कहते थे “कोई बात नहीं”

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -