जबान पर लगाए लगाम, बदलते मौसम में गंभीर हो सकते हैं परिणाम

जबान पर लगाए लगाम, बदलते मौसम में गंभीर हो सकते हैं परिणाम

मौसम के करवट लेते ही हमारी जबान का स्वाद भी बदलने लगता है। हर किसी को बारिश के मौसम में चटपटी चीजों का सेवन अधिक भाता है। हालांकि इसके कारण हमें कई गंभीर परिणाम भी भुगतने पड़ सकते हैं। आज इस बात को ध्यान में रखते हुए हम आपको बताने जा रहे हैं कि बारिश के मौसम में हमें क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए ?

बारिश के मौसम में ये नहीं खाना चाहिए ? 

बरसात के सीजन में तली और भूने हुई चीजों से दूरी बनाकर रखें। इनसे आप दूरी बनाएंगे तो बीमारी भी आप से दूरी बनाएगी। इसके साथ ही आप इमली, चटनी और खट्टी चीजों का सेवन भी न करें।

ऐसा होना चाहिए बारिश का डाइट प्लान 

सुबह उठने के बाद आप ग्रीन टी, नीम्बू पानी या फिर दूध वाली चाय 1 कप में से किसी भी एक का सेवन कर सकते हैं। नाश्ते में आप दो साधारण रोटी दही के साथ या 1 कटोरी दलिया या फिर एक ओट्स लें सकते हैं। सुबह करीब 11 बजे के आस-पास आप तजा मौसमी फल आदि का रस लें सकते हैं।  

लंच की बात करें तो इस दौरान आप दो रोटी या फिर उबले हुए चावल, पकी हुए सब्जी 200 ग्राम, साथ ही पका हुआ हाईप्रोटीन युक्त अनाज जैसे कि (न्यूट्री नगेट, सोयाबीन,राजमा, काले चने, घर में निर्मित पनीर लें सकते हैं। वहीं रात के खाने में आप 200 ग्राम की मात्रा में पीली मूंग दाल, हल्की सब्जी 175 ग्राम और 2 रोटी का सेवन कर सकते हैं। साथ ही रात को सोने से पहले गरमागरम एक गिलास दूध लेना फायदेमंद होगा।  

 

 

गर्भवती महिलाओं के लिए घातक हो सकता है बारिश का मौसम, इन बातों का रखें ध्यान

मोदी सरकार की इस स्कीम के तहत मिलेगा मुफ्त इलाज, जानिए आपको कैसे मिलेगा लाभ ?

जानिए क्या है थायराइड के लक्षण