Share:
लाल किला हिंसा: दिल्ली पुलिस कमिश्नर बोले- किसानों ने विश्वासघात किया, दोषियों को नहीं छोड़ेंगे
लाल किला हिंसा: दिल्ली पुलिस कमिश्नर बोले- किसानों ने विश्वासघात किया, दोषियों को नहीं छोड़ेंगे

नई दिल्ली: दिल्ली के पुलिस कमिश्नर ने कहा है कि राष्ट्रीय पर्व गणतंत्र दिवस के दिन पर ट्रैक्टर परेड की आड़ में दिल्ली में हिंसा करने वाले किसी भी उपद्रवी को बख्शा नहीं जाएगा। इतना ही नहीं इन्हें उकसाने और भड़काऊ भाषण देने वाले किसान संगठनों और उन नेताओं के खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी, जिनकी हिंसा में संलिप्तता पाई जाएगी। 

दरअसल, दिल्ली पुलिस आयुक्त एक प्रेस वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर दोषी पाए गए नेताओं की गिरफ्तारी भी की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने आगे कहा कि किसान नेताओं ने विश्वास को तोड़ा है देश की गरिमा को चोट पहुंचाई है, जिसके लिए उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस आयुक्त ने कहा कि हम जहां सुरक्षा में लगे थे, वहीं किसान संगठन विश्वासघात करते हुए हिंसा का षड्यंत्र रच रहे थे, जिसके इनपुट हमें 25 तारीख की रात को मिल गए थे। 

पुलिस आयुक्त ने कहा कि हिंसा के इनपुट मिलने के बाद भी हमने संयम बरता और ट्रेक्टर परेड निकलने के लिए इजाजत दी, किन्तु सबसे पहले सिंघु बॉर्डर से किसान नेता सतनाम सिंह पन्नू और दर्शन पाल सिंह ने निर्धारित समय से पहले 9 बजे ही बेरीकेडिंग को तोड़ते हुए रैली को शुरू किया और मुकरबा चौक पर बैठ गए।

सिप्ला ने महाराष्ट्र में 30 एमवी सौर संयंत्र का किया आयोजन

नालको ने 749 करोड़ रुपये के शेयर बायबैक प्लान को दी मंजूरी

टिकटॉक और हेलो ऐप ने किया भारत में कारोबार बंद करने का ऐलान, जाएगी लाखों लोगों की जॉब

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -