'ऑक्सीजन की कमी से मौत', केजरीवाल सरकार का 'झूठ' हुआ बेनकाब, अदालत में दिया था झूठा जवाब

Jul 22 2021 12:29 PM
'ऑक्सीजन की कमी से मौत', केजरीवाल सरकार का 'झूठ' हुआ बेनकाब, अदालत में दिया था झूठा जवाब

नई दिल्ली: सीएम अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली की आम आदमी पार्टी (आप) सरकार ने आखिरकार कोरोना की दूसरी लहर के दौरान दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी से हुईं मौतों की बात स्वीकार कर ली है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बुधवार (21 जुलाई 2021) को केंद्र सरकार को घेरने के चक्कर में अपनी ही सरकार द्वारा बोले गए एक झूठ की पोल खोल दी। जैन ने कहा कि दिल्ली और देश के अन्य जगहों पर ऑक्सीजन की कमी के कारण मरीजों की मौतें हुई हैं। दिलचस्प यह है कि आप सरकार ने दिल्ली उच्च न्यायालय को बताया था कि ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई है।

जैन ने कहा कि, 'ऑक्सीजन से हुई मौतों का वास्तविक आँकड़ा सामने न आए, इसलिए केंद्र सरकार ने LG (उपराज्यपाल) से दिल्ली सरकार द्वारा बनाई गई समिति भंग करवाई, जिसका काम ही यही था ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों का सही आँकड़ा जमा करना और मुआवजा दिलाना।' सत्येंद्र जैन ने आगे कहा कहा कि केंद्र सरकार उन लोगों के जले पर नमक ना छिड़के, जिनके घर ऑक्सीजन की कमी से मौत हुई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, 'दिल्ली और देश के अन्य जगहों पर ऑक्सीजन की किल्लत के कारण कई मौतें हुई हैं, यह कहना पूरी तरह से गलत है।'

 

जैन के बयान के बाद ABP न्यूज के पत्रकार विकास भदौरिया का ट्वीट सामने आया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि, 'झूठ पकड़ा गया। केजरीवाल सरकार खुद हाईकोर्ट को लिखित में दे चुकी है कि उसके यहाँ ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत नहीं हुई। मई 2021 में हाईकोर्ट में दाखिल जवाब में दिल्ली सरकार ने अपनी चार सदस्यीय कमिटी की रिपोर्ट कोर्ट में पेश की थी और बताया था कि ऑक्सीजन की कमी से कोई मौत से नहीं हुई है।'

हैदराबाद ने दिया उर्दू में विज्ञान पर पुस्तकें प्रकाशित करने की आवश्यकता पर बल

संसद परिसर में कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन, राहुल गांधी सहित कई कांग्रेस सांसद शामिल

राजस्थान के MLA रामकेश ने फाड़कर फेंका 'जय श्रीराम' लिखा हुआ भगवा ध्वज, वीडियो वायरल