जानिए क्यों बीजेपी केजरीवाल को देगी 40 हजार...?

नई दिल्ली: भारत की राजधानी दिल्ली में निरंतर हो रही ज़हरीली हवा का केस सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. लेकिन इस केस पर राजनीति और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है. जहां दिल्ली गवर्नमेंट केंद्र और पड़ोसी राज्यों में जल रही पराली को दोष देने में लगे हुए है. वहीं भाजपा दिल्ली में प्रदूषण के लिए केजरीवाल सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा पराली जलाने से रोकने के लिए एक कैप्सूल का निर्माण किया था. उसमे 40 हज़ार की लगत लगी थी. अब भाजपा कल अरविंद केजरीवाल को 40 हज़ार रुपये का चेक देने वाली है.

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा और दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए दिल्ली गवर्नमेंट पर निशाना साध दिया ही.  जहां अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने बोला है कि आज की प्रैस कॉन्फ्रेंसिक राजनीतिक नहीं हैं. मैं खुद एक डॉक्टर हूं. आज स्वास्थ्य से संबंधित प्रैस कॉन्फ्रेंस हैं. जिस तरह से प्रदूषण के कारण बच्चों और बड़ों का जीवन   प्रभावित हो रहा है. उसमें हम सबको बिना राजनीति के एक साथ होकर लड़ने की जरूरत है . दिल्ली आज सबसे प्रदूषित शहर है. पराली को लेकर बहुत चर्चा होती नज़र आ रही है. केजरीवाल हर बार बोलते है कि दिल्ली लंदन बन जायेगा, सिंगापुर बन जायेगा.

जहां इस बात का पता चला है कि दिल्ली में प्रदूषण के लिए केजरीवाल ने पंजाब हरियाणा और आस पास के राज्य को दोषी कहा है. अगर पंजाब और अन्य राज्यों में पराली की वजह से दिल्ली में प्रदूषण हो रहा है तो पंजाब या अन्य राज्यों में कम क्यों है? दिल्ली में अधिक क्यों? क्योंकि दिल्ली में राजनीतिक प्रदूषण भी है. सुप्रीम कोर्ट ने भी इस बात को लेकर फटकार लगाई है. वो टोपी ट्रांसफर कर रहे थे. उनके विज्ञापन का ऑडिट करने की भी बात की जा रही है.

एक RTI का हवाला देते हुए संबित पात्रा ने कहा है कि सीएम केजरीवाल  ने पराली से होने वाल प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए 40 हज़ार रुपये भी खर्च कर दिए है. केजरीवाल ने कहा है कि दिल्ली की 30 हज़ार हेक्टेयर कृषिभूमि में से 800 हेक्टेयर भूमि पर डिकॉम्पोज़र का छिड़काव कर दिया था. 300 किसानों को लाभ हुआ. 40 हज़ार का कैप्सूल, 35 हज़ार का गुड़ और बेसन, 13 लाख रुपये ट्रैक्टर का किराया और टेंट का 10 लाख रुपये खर्च कर दिए है. इसमें विज्ञापन पर 15 करोड़ 80 लाख 36 हज़ार 828 रुपये की लगत भी लगाई है. काम पराली जितना किया और दिखाया फसल जितना. कोविड के वक़्त भी इन्होंने बोला था हरियाणा और पंजाब ने दिल्ली की हालत को बहुत ही बुरी तरह से प्रभावित किया है.

जहां इस बारें में दिल्ली बीजेपी अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने बोला है हर बार सीएम केजरीवाल यही कहते हैं हम घोल बाटेंगे दिल्ली में प्रदूषण होने से रोकेंगे . मेरा दिल्ली की सीएम के बारे में यही कहना है वो बोलते थे दिल्ली को धुआंधार शहर बनाएंगे लेकिन उन्होंने धुआंदार शहर बना दिया है. दिल्ली भाजपा कल 40 हज़ार रुपये का चेक केजरीवाल को देने वाली है. क्योंकि उन्होंने पराली के प्रदूषण के निपटने के लिए 40 हज़ार रुपये खर्च किये हैं.

100% वर्क फ्रॉम होम, निर्माण कार्यों पर पूर्ण पाबन्दी.., प्रदूषण रोकने के लिए दिल्ली सरकार के बड़े फैसले

जम्मू-कश्मीर में 'कांग्रेस' ख़त्म ? पूर्व मंत्रियों और विधायकों ने सोनिया गांधी को भेजा 'सामूहिक इस्तीफा'

'लखनऊ युद्ध लड़ने नहीं जा रहे हैं..', जानिए यूपी में 'किसान महापंचायत' पर क्या बोले राकेश टिकैत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -