MP: बैंककर्मियों ने नहीं सुनी बात तो युवक ने स्टाफ को बना डाला बंधक

दमोह: आए दिन लोग अपनी शिकायत लेकर आते हैं कि बैंक में उनकी कोई नहीं सुन रहा। कई बार लोग बैंक के लोगों के व्यवहार से भी परेशान हो जाते हैं। इसी के चलते आए दिन बैंकों के कर्मचारियों की शिकायतें सामने आती रहती हैं। ग्राहक मन ही मन भड़ास निकाल लेते हैं और शांत रहते हैं लेकिन दमोह से एक चौकाने वाला मामला सामने आया है। जी दरअसल यहाँ बैंक वालों की मनमानी से नाराज एक युवक ने बैंक के अंदर स्टाफ को ही बंधक बना दिया। जी हाँ और जब पुलिस आई तब जाकर स्टाफ बैंक से बाहर निकल पाया। यह मामला दमोह जिले के सिग्रामपुर का है।

यहाँ प्रदीप झरिया नाम का युवक शुक्रवार की शाम मध्य ग्रामीण बैंक में खाता खुलवाने आया, हालाँकि बैंक स्टाफ ने उसकी एक बात नहीं सुनी। यह देखने के बाद प्रदीप को गुस्सा आ गया और उसने बैंक के मेन गेट का शटर बाहर से लगा दिया और बाहर खड़े होकर चिल्लाने लगा। जैसे ही युवक की इस हरकत को लोगों ने देखा सभी हैरान हो गए। इसी बीच बैंक स्टाफ ने पुलिस को इसकी सूचना दी तब जाकर पुलिस वालों की मदद से बैंक का शटर खुला और स्टाफ बाहर आया।

बताया जा रहा है इस हरकत को करने के बाद भी प्रदीप भागा नहीं बल्कि पुलिस वालों को अपने साथ हुए व्यवहार की शिकायत उसने दर्ज कराई। उसकी शिकायत पर बैंक मैनेजर का कहना है कि 'युवक बैंक का समय खत्म होने के बाद आया था इस वजह से उसे मना किया गया।' अब यह मामला पुलिस थाने तक पहुंच गया है जहां दोनों पक्षों ने शिकायत दर्ज कराई है। वहीं इस मामले पर पुलिस अधिकरियों का कहना है कि जांच के बाद मामले में कार्रवाई की जाएगी।

बदमाश ने बुजुर्ग से दारू के लिए मांगे 500 रुपए, नहीं दिए तो निकाला चाकू और।।।

भूकंप के झटकों से काँपा अरुणाचल प्रदेश, रिक्टर स्केल पर 4।5 मापी गई तीव्रता

नारीवादी लेखिका कमला भसीन का दुखद निधन, दिग्गज हस्तियों ने जताया शोक

Most Popular

- Sponsored Advert -