सोमवार तक चक्रवाती तूफान बंगाल में दे सकता है दस्तक

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र तेज होकर डिप्रेशन में बदल गया है। आईएमडी ने कहा कि चक्रवाती तूफान 26 मई को पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटों को "बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान" के रूप में पार करेगा। आईएमडी चक्रवात यास को 'बहुत गंभीर चक्रवात' की श्रेणी में रखता है। 

चक्रवात के 26 मई की शाम तक पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटों को पार करने की उम्मीद है। हवा की गति लगभग 155-165 किमी प्रति घंटे और 185 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने का अनुमान है। पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय इलाकों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। आईएमडी ने दोनों राज्यों के तटीय क्षेत्रों में तूफान बढ़ने की भी चेतावनी दी है।

 राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल, एनडीआरएफ ने बचाव अभियान के लिए 75 टीमों को तैनात किया है। एनडीआरएफ के महानिदेशक सत्य नारायण प्रधान ने कहा कि 75 टीमों में से 59 को जमीन पर तैनात किया जाएगा और 16 को स्टैंडबाय पर रखा जाएगा। एनडीआरएफ की 18 टीमों को ओडिशा भेजा गया है। पश्चिम बंगाल में एनडीआरएफ की टीमें 11 जिलों में तैनात हैं।

बंगाल में हार के बाद अब यूपी को लेकर अलर्ट हुई भाजपा, दिल्ली में RSS नेताओं के साथ की बैठक

फैबिफ्लू मामले में फंसे गौतम गंभीर, कोर्ट ने कहा- भले ही उनकी मंशा सही हो, लेकिन...

जून में बच्चों पर होगा कोवैक्सीन का ट्रायल, 2 साल का होगा सबसे छोटा वॉलंटियर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -