सावरकर को भारत रत्न देने की मांग को लेकर सियासत तेज़, कांग्रेस बोली- गोडसे को क्यों नहीं देते ?

सावरकर को भारत रत्न देने की मांग को लेकर सियासत तेज़, कांग्रेस बोली- गोडसे को क्यों नहीं देते ?

नई दिल्‍ली: महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव के दौरान भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने अपने संकल्‍प पत्र में क्रांतिकारी विनायक दामोदर सावरकर को भारत रत्‍न दिलवाने की बात कही है। इस पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने तंज कसते हुए कहा कि भाजपा/एनडीए भारत रत्‍न, सावरकर को ही क्‍यों देना चाहती है? राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के हत्‍यारे नाथूराम गोडसे को क्‍यों नहीं?  

मनीष तिवारी ने कहा है कि महात्‍मा गांधी की हत्‍या के मामले में सावरकर पर इल्जाम लगे थे। उनके खिलाफ चार्जशीट फाइल की गई थी, किन्तु बाद में वह बरी हो गए। लेकिन नाथूराम गोडसे को दोषी पाया गया और सजा के रूप में फांसी दे दी गई। ऐसे में अगर महात्‍मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर आप उनकी स्‍मृतियों को मिटाना चाहते हैं तो फिर खुलेआम पूरी तरह से ये काम कीजिए।

आपको बता दें कि इससे पहले कांग्रेस के दिग्गज नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भी भाजपा के इस वादे को लेकर हमला बोला है। दिग्विजय सिंह ने कहा है कि वीर सावरकर के जीवन के दो पहलू थे, पहले में उनका अंग्रेज़ों से माफ़ी मांगकर जेल से वापस लौटने के बाद आजादी की लड़ाई में भागीदारी और दूसरे पहलू में उनका राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की हत्या में शामिल होना।

पाक की बौखलाहट फिर आई सामने, विदेश मंत्री कुरैशी बोले- भारत से नहीं बनाएंगे राजनयिक संबंध

भाजपा के खिलाफ दिग्गी राजा ने खोला मोर्चा, कहा- गाँधी के हत्यारों में शामिल था सावरकर का नाम

महाराष्ट्र चुनावः विपक्ष के धुरंधरों को उनके गढ़ में घेरने की तैयारी में बीजेपी