घाटी में गुलाम नबी आज़ाद को नहीं मिली एंट्री, जम्मू एयरपोर्ट से वापस भेजा गया दिल्ली

घाटी में गुलाम नबी आज़ाद को नहीं मिली एंट्री, जम्मू एयरपोर्ट से वापस भेजा गया दिल्ली

श्रीनगर:  कांग्रेस सांसद और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद को प्रशासन द्वारा मंगलवार दोपहर में जम्मू एयरपोर्ट पर रोक लिया गया. आजाद जम्मू प्रदेश कांग्रेस समिति मुख्यालय में आयोजित होने वाली बैठक में शामिल होंगे जम्मू पहुंचे थे. उन्हें जम्मू एयरपोर्ट से ही वापस दिल्ली भेज दिया गया. इससे पहले गुलाम नबी आज़ाद और जम्मू कश्मीर कांग्रेस इकाई के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को श्रीनगर एयरपोर्ट पर ही रोका गया था.

वह जम्मू कश्मीर की धारा 370 हटाए जाने के बाद पहली बार गुरुवार को श्रीनगर एयरपोर्ट पर पहुंचे थे. गुलाम नबी आजाद श्रीनगर में कांग्रेस पार्टी के दफ्तर में नेताओं के साथ बैठक लेने वाले थे. यह बैठक जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाली धारा 370 हटाए जाने से संबंधित थी. दिल्‍ली लौटकर आजाद ने संविधान की धारा 370 की शक्‍त‍ियों को खत्‍म करने और जम्‍मू-कश्‍मीर पुनर्गठन बि‍ल की घोर आलोचना की थी. 

आज़ाद ने जम्‍मू-कश्‍मीर पुनर्गठन बि‍ल को काला कानून करार दिया था. गुलाम नबी आजाद ने कहा था कि, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कश्‍मीर को खत्‍म कर दिया है. घाटी में सन्‍नाटा पसर गया है. गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल के एक वीडियो पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि पैसे देकर आप किसी को भी साथ ले सकते हो.

पाक का सेना प्रमुख खुद ही तय करता है अपना कार्यकाल, पीएम करता है बस खानापूर्ति

जब शौचालय कम बने तो ज्यादा कैसे बताए, सीएम योगी ने 6 डीएम से मांगा जवाब

यूपी में बढ़ी पेट्रोल-डीजल की कीमतें, मायावती ने राज्य सरकार पर बोला हमला