अग्निपथ के खिलाफ युवाओं का प्रदर्शन थमा, लेकिन कांग्रेस का विरोध जारी.., यूपी में निकला मार्च

लखनऊ: केंद्र सरकार द्वारा सेना में भर्ती के लिए लाई गई नई योजना अग्निपथ के खिलाफ कांग्रेस ने सोमवार को उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में जमकर विरोध प्रदर्शन किया। कांग्रेस यूपी इकाई के पूर्व अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने सेवरही नगर में सत्याग्रह मार्च निकाला। पुलिस ने मार्च को रोकने का प्रयास किया, कांग्रेस नेताओं के साथ उनकी तीखी नोकझोंक भी हुई।

इस दौरान अजय कुमार लल्लू ने कहा कि मोदी सरकार ने बगैर समझे मनमाने तरीके से सेना भर्ती में ठेकेदारी व्यवस्था 'अग्निपथ' थोप दिया है। पूरे देश की व्यवस्था को प्राईवेट लिमिटेड कंपनी समझ रखा है। लल्लू ने आगे कहा कि युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ नहीं होने देंगे। मोदी सरकार को इसे वापस लेना ही होगा। कांग्रेस देशभर के नौजवानों के सपनों को कुचलने नहीं देगी। कांग्रेस युवाओं के संघर्ष में एकजुट होकर खड़ी है और पार्टी युवाओं की लड़ाई लड़ेगी। 'अग्निपथ' ठेका प्रथा सेना में जाने वाले युवाओं के जज्बे के साथ खिलवाड़ है। इसके वापसी तक हमारी जंग जारी रहेगी।

वहीं, अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं द्वारा वाराणसी में टाउनहाल में भी सत्याग्रह किया गया। पार्टी हाईकमान के निर्देश पर वाराणसी में वरिष्ठ नेता टाउन हॉल के गांधी सभागार के बाहर धरने पर बैठे। नेताओं ने योजना को युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ बताते है इसे वापस लेने के लिए आवाज़ उठाई। बता दें कि, अग्निवीरों के पंजीकरण की प्रक्रिया 24 जून से शुरू हो चुकी है और पूरे देश में हिंसक आंदोलन भी थम चुके हैं, लेकिन कांग्रेस इस तरह के प्रदर्शन करके एक बार फिर इस मुद्दे को भड़काने का काम कर रही है।  

यूपी में 100% टीकाकरण संपन्न, अब बच्चों को वैक्सीन लगाने पर हो रहा काम - ब्रजेश पाठक

चुनाव प्रचार के लिए सिंगरौली पहुंचेंगे अरविंद केजरीवाल

जिसने 'बालासाहेब ठाकरे' को गिरफ्तार करवाया, उस छगन भुजबल को बेटे 'उद्धव' ने बना दिया मंत्री

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -