क्रिसमस पर सबसे अधिक महत्वपूर्ण होते हैं यह 3 रंग

आप सभी जानते ही हैं कि दिसंबर का महीना अब गुजरने वाला है और इस महीने का त्यौहार क्रिसमस भी आज मनाया जा रहा है. ऐसे में क्रिसमस पर्व पर तीन रंगों का विशेष तौर पर प्रयोग किया जाता है और इन रंगों में लाल रंग, हरा रंग और सुनहरा यानि गोल्डन कलर का प्रयोग सर्वाधिक किया जाता है. अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि इन रंगों के बारे में जीसस क्राइस्ट ने हमें तीन शिक्षाएं कौन कौन सी दी हैं. आइए जानते हैं.

लाल रंग - कहते हैं यह रंग यीशु के खून का प्रतीक है और इसके अलावा उनका दूसरों के प्रति बेपनाह प्यार भी लाल रंग को दर्शाता है. इसी के साथ वह हर किसी को अपना बेटा मानते थें और बिना शर्त के उन्हें प्यार करते थे. कहते हैं लाल रंग मानवता का पाठ भी पढ़ता है और यह खुशी भी प्रदान करता है इस वजह से यह रंग महत्वपूर्ण है.

हरा रंग - आप जानते ही हैं कि हरा रंग, प्रकृतिक को संबोधित करता है. यह सर्दी में भी अपने रंग को बरकरार रखता है और ईसाई धर्म में माना जाता है कि हरा रंग प्रभू यीशु के शाश्वत जीवन का प्रतीक है. कहते हैं यीशु को भले ही जबरदस्ती मार दिया गया हो लेकिन वह सभी के मन में ज़िंदा है और हरे रंग का मतलब होता है जिंदगी.

सुनहरा रंग - कहते हैं इस रंग का अर्थ होता है किसी को भेंट देना और यीशु के जन्म पर जो तीसरे राजा आए थें, उन्होंने भेंट में सोना दिया था. जी हाँ, भगवान ने गरीब मरियम को अपने बेटे को जन्म देने के लिये चुना और मरियम और यूसुफ ने यीशु को बचाने के लिये सभी बाधाओं का सामना किया.

क्रिसमस : पीएम मोदी ने लिखा शानदार पोस्ट, ईसा मसीह की शिक्षाओं को किया याद

फैन के डिमांड पर ऋषि कपूर ने शेयर की स्माइल करते हुए सांता की फोटो

हॉलीवुड की इस सिंगर ने बच्चों का जीता दिल, ट्रक भरकर बाटे खिलौने

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -