You Know ...... हँसने के पैसे लगते है क्या ????

कुछ लोग होते है घर में ऑफिस में या फिर आपके कुछ मित्र या रिश्तेदार जिनको आपने कभी हँसते हुए नही देखा होगा. उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि जैसे हँसने के ऊपर टैक्स लगता है, और हां ज्यादा हंस दिए तो शायद जुर्माना या जेल भी हो सकती है. शायद उन्हें आखरी बार हँसते हुए तब ही देखा होगा जब उन्होंने खुद ही कोई बकवास जोक सुनाया होगा, और उनका जोक है, अगर उस पर वो नही हंसेगे तो फिर कौन हँसेगा. इस बात से यह तो अंदाजा लगाया जा सकता है कि आपके जोक पर तो वे कभी हँसे ही नही होंगे.

ना हँसने वालो में भी तरह तरह के लोग पाए जाते है, जिनमे से कुछ लोगो का सिर्फ फिक्स टाइम होता है. वे बस उसी टाइम हँसते है. फिर कोई बात हो या ना हो वे जो भी उनका समय होता है दो चार मिनट उस में हंस कर सबके ऊपर बड़ा अहसान करते है. ऐसे लोग समय के बड़े पक्के होते है. अगर सुबह के समय में कोई हँसी वाली बात हो तो ये उस पर शाम को तब ही हँसते है जब इनका समय होता है. वही अपनी डायरी में लिख भी लेते है कि शाम को मुझे इस बात के लिए हँसना है.

दूसरे प्रकार के इंसान वे होते है जो दुसरो के हंसने पर भी मुँह फुलाए रहते है. वो अक्सर यही बोलते हुए पाए जाते है कि you know वो कितना हँसता है. you konw वो बिना बात के भी हँसता रहता है. ये ऐसे लोग होते है जो खुद तो हँसते नही है किन्तु दुसरो पर भी पाबन्दी लगाना चाहते है. उनका सीधा सा मतलब यह होता है कि क्या बात बात पर हंसना. पर वे कभी हंसे हो तब तो समझ पाते ना कि हंसना क्या होता है. ये वही लोग होते है जो जीवन में शांति नही मिलने पर हँसने के लिए किसी क्लास को ज्वाइन करते है. जहा हँसने के लिए पैसे देते है. और फिर अपने दोस्तों को बताते है कि you know बड़ी अच्छी क्लास है. बहुत मजा आता है, वहाँ तो हास्य योग के साथ मनोरंजन भी हो जाता है. हालांकि इन लोगो को समझाना बहुत ही कठिन काम है कि आप क्लास के बाहर भी हंस सकते हो. 

दुनिया में हमारे आसपास ऐसे बहुत सारे प्राणी है जिनको हंसने से परेशानी होती है, उनकी यह परेशानी उस प्रकार होती है, जैसे मोबाइल का टेरिफ खत्म हो गया हो और कॉल रेट ज्यादा लग रहा हो. या फिर उस तरह से जैसे हंसने पर टैक्स या चार्ज लग रहा हो, या फिर उनके मन में यह भी डर हो सकता है कि हंसने पर कही पुलिस ना पकड़ ले. तो हम आप लोगो की जानकारी के लिए बता दे कि अभी हंसने पर कोई टैक्स या पैसा नही लग रहा है,  मुँह फुलाकर बैठने से अच्छा है कि आप खुल के हँसा कीजिये. फिर भी आपको लगता है कि you know ........ तो आप चुपचाप बैठिये, क्योकि आपके इस ....you know का मतलब इंसान के साथ साथ भगवान भी नही समझ सकता है, और ना आपको समझा सकता है. शायद इस you know .... की वजह से ही भगवान ने आपको धरती पर भेजा होगा.

आज का युवा 'की-बोर्ड' ठोक रहा है.....

अरे भाई कोई समझाओ इन लोगो को.....

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -