चंद्रग्रहण 2019: बंद हो जाएंगे चारों धामों के कपाट, इस समय हो पाएंगे दर्शन

जनजारी दे दें, 16 जुलाई को चंद्रग्रहण के चलते बदरीनाथ, केदारनाथ और गंगोत्री-यमुनोत्री धाम के कपाट श्रद्धालुओं के लिए शाम चार बजे के बाद बंद कर दिए जाएंगे. ऐसे में मंदिरों के कपाट बंद कर दिए जाते हैं उसी के चलते चरों धाम के कपाट भी बंद हो जायेंगे जो 17 जुलाई को सुबह खुलेंगे. रात 1.31 बजे से 17 जुलाई सुबह 4.31 बजे तक चंद्रग्रहण है. सूतक की वजह से ग्रहण के नौ घंटे पहले ही भगवान बदरीनाथ की रात 8.30 बजे होने वाली शयन आरती शाम 4.25 बजे धाम के कपाट बंद होने से पहले ही हो जाएगी. 

इस बारे में धाम के धर्माधिकारी भुवन चंद्र उनियाल ने बताया कि बदरीनाथ की सभी पूजाएं सूतक लगने से पहले पूरी कर ली जाएगी. 17 जुलाई को सुुबह छह बजे बदरीनाथ मंदिर की साफ सफाई के बाद भगवान की अभिषेक पूजा की जाएगी. उधर, यमुनोत्री मंदिर समिति के सचिव कृतेश्वर उनियाल ने बताया कि चंद्रग्रहण के चलते 16 जुलाई को शाम 4.37 बजे यमुनोत्री मंदिर के कपाट बंद कर दिए जाएंगे, जो अगले दिन सुबह पांच बजे पुन: खोले जाएंगे.

वहीं गंगोत्री मंदिर समिति के अध्यक्ष सुरेश सेमवाल ने बताया कि 16 जुलाई को चंद्रग्रहण लग रहा है. इस दिन रोज की भांति सुबह चार बजे मंदिर के कपाट खुलेंगे. अपराह्न 3.45 बजे मंदिर में आरती एवं 4.00 बजे भोग चढ़ाने के बाद शाम 4.10 बजे मंदिर के कपाट बंद कर दिए जाएंगे. अगले दिन 17 जुलाई को सुबह पांच बजे मंदिर के कपाट खोले जाएंगे. 
 
जिले के अन्य मंदिरों में भी चंद्रग्रहण काल में मंदिर में दर्शन और पूजा अर्चना बंद रहेगी. वहीं, 16 जुलाई को ग्रहण के चलते केदारनाथ धाम के कपाट शाम चार बजे बंद कर दिए जाएंगे.

चंद्रयान 2 के लॉन्च पर अक्षय ने दी ISRO को शुभकामना..

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -