चमकी बुखार से मर रहा बिहार, नितीश के मंत्री गर्मी को बता रहे जिम्मेदार

चमकी बुखार से मर रहा बिहार, नितीश के मंत्री गर्मी को बता रहे जिम्मेदार

पटना: बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में चमकी बुखार कहे जाने वाले अक्यूट इन्सेफलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) के कारण हो रही मौतों से पूरे देश में मातम है। अब तक 108 बच्चों की जान जा चुकी है। सीएम नीतीश कुमार ने 3 सप्ताह बीत जाने के बाद मंगलवार को मुजफ्फरपुर जाने की खबर ली तो वहां मौजूद लोगों ने उनका जमकर विरोध किया। 

वहीं दूसरी तरफ बिहार के सांसद और नीतीश कुमार के मंत्री मासूमों के मौत पर आपत्तिजनक बयान दे रहे हैं। मुजफ्फरपुर जिले के सांसद अजय निषाद और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) सांसद दिनेश चंद्र यादव ने इन्सेफलाइटिस से हो रही मौतों का कारण गर्मी बताई है, वहीं राज्य की पूर्व सीएम और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी ने सीएम नीतीश पर हमला बोला है।  इस बीच मुजफ्फरपुर के डीएम आलोक रंजन ने भी अक्यूट इन्सेफलाइटिस सिंड्रोम से 108 बच्चों की मृत्यु हो जाने की पुष्टि की है।

उन्होंने कहा है कि मंगलवार को भी 4 मासूमों ने दुनिया को अलविदा कह दिया। अस्पताल में भर्ती बच्चों का उपचार किया जा रहा है। इनमें 16 बच्चों की हालत नाजुक है। मुजफ्फरपुर में मौतों के बारे में जब यहां के सांसद अजय निषाद से पुछा गया तो उन्होंने बेहद लापरवाही से जवाब  देते हुए कहा कि, 'इस बार अधिक मामले आ रहे हैं, इसका कारण गर्मी भी है। गर्मी बहुत अधिक हो रही है, उसे रोकने के लिए पेड़-पौधे लगाना चाहिए। बीमारी का असली कारण 4 जी है, जी फॉर गर्मी, गांव, गरीबी और गंदगी। इससे बीमारी का संबंध है। मरीज गरीब तबके से आते हैं और उनके रहन-सहन के स्तर में गिरावट देखी गई है। उसे सुधारने की आवश्यकता है।' 

यूपी सूचना विभाग की नई पहल अब संस्कृत भाषा में भी जारी होगा प्रेस नोट

दिग्विजय सिंह ने कुछ इस तरह साधा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना

VIDEO: भाजपा सांसदों ने कसा तंज, अकेले बचे हैं भगवंत मान, जवाब मिला 'एक ही बहुत हूँ'