रात में जलाये शिवजी के सामने दीपक

Nov 21 2016 07:20 AM
रात में जलाये शिवजी के सामने दीपक

पुराने समय से ही कई ऐसी परंपराएं प्रचलित हैं, जिनका पालन करने पर व्यक्ति को सभी सुखों की प्राप्ति होती है. इन प्रथाओं का पालन न करने पर कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है. शुभ फलों की प्राप्ति के लिए एक परंपरा है कि प्रतिदिन रात्रि के समय शिवलिंग के समक्ष दीपक लगाना चाहिए. इस उपाय के पीछे एक प्राचीन कथा बताई गई है.

कथा के अनुसार प्राचीन काल में गुणनिधि नामक व्यक्ति बहुत गरीब था और वह भोजन की खोज में लगा हुआ था. इस खोज में रात हो गई और वह एक शिव मंदिर में पहुंच गया. गुणनिधि ने सोचा कि उसे रात्रि विश्राम इसी मंदिर में कर लेना चाहिए. रात के समय वहां अत्यधिक अंधेरा हो गया. इस अंधकार को दूर करने के लिए उसने शिव मंदिर में अपनी कमीज जलायी थी. रात्रि के समय भगवान शिव के समक्ष प्रकाश करने के फलस्वरूप से उस व्यक्ति को अगले जन्म में देवताओं के कोषाध्यक्ष कुबेर देव का पद प्राप्त हुआ.

इस कथा के अनुसार ही शाम के समय शिव मंदिर में दीपक लगाने वाले व्यक्ति को अपार धन-संपत्ति एवं ऐश्वर्य की प्राप्ति होती हैं. अत: नियमित रूप से रात्रि के समय किसी भी शिवलिंग के समक्ष दीपक लगाना चाहिए. दीपक लगाते समय ऊँ नम: शिवाय मंत्र का जप करना चाहिए.