सबसे सुरक्षित जेल के बाहर चलीं ताबड़तोड़ गोलियां, मचा हड़कंप
सबसे सुरक्षित जेल के बाहर चलीं ताबड़तोड़ गोलियां, मचा हड़कंप
Share:

दुमका: झारखंड में सबसे सुरक्षित माना जाने वाला दुमका केंद्रीय जेल इस बार गलत वजहों से ख़बरों में है। वहां मोटरसाइकिल सवार दो बदमाशों ने देर शाम तीन गोलियां चलाई। बदमाशों ने गेट और दीवार के ऊपर गोलियों का फायर किया। अपराधी जेलर के नाम एक धमकी भरी चिठ्ठी केंद्रीय जेल के गेट पर फेंक कर चलते बने। पुलिस मौके पर पहुंचकर घटना की छानबीन कर रही है। बदमाशों की पहचान के लिए केंद्रीय जेल के आसपास लगे CCTV को खंगाल रही है। फेकें गए धमकी भरे खत से यह पता लग रहा है कि दुमका सेंट्रल जेल में बंद अमन सिंह के गुर्गों ने इस वारदात को अंजाम दिया है। 

गौरतलब है कि धनबाद के नीरज सिंह हत्याकांड में अमन सिंह की गिरफ्तारी हुई थी तथा उसे दुमका केंद्रीय जेल शिफ्ट कर दिया गया था। उस खत में साफ-साफ लिखा हुआ है कि अमन सिंह को दुमका केंद्रीय जेल से दूसरे जेल में ट्रांसफर किया जाए।

आपको बता दें कि अमन सिंह उत्तर प्रदेश का रहने वाला एवं शार्प शूटर में इसकी गिनती होती है। घटना की पुष्टि करते हुए जेल गेट पर तैनात संतरी डी। पी। यादव ने बदमाशों द्वारा तीन गोलियां चलाने की बात कही। वहीं पास में ब्यूटी पार्लर में काम करने वाली सुजाता सुमन ने भी घटना की जानकारी देते हुए कहा कि गोलियों के चलते ही वह पार्लर से बाहर आ गया। उसने आकर पता करने का प्रयास किया। यह पटाखा कहां चल रहा है। उसी वक़्त गाड़ी का एन्टी थेप्ट अलार्म बजने लगा।

महाराष्ट्र के इस जिलें में मिली सोने की खदान, CM शिंदे ने किया दावा

बिना न्योते शादी में पहुंच गए छात्र और फिर जो हुआ वो कर देगा हैरान

'बंगाल में बम बनाने का उद्योग..', एक और ब्लास्ट, 3 की मौत, शुभेंदु अधिकारी ने की NIA जांच की मांग

रिलेटेड टॉपिक्स