अटलांटिक महासागर में नाव पलटने से 58 की मौत, राहत व बचाव कार्य जारी

अटलांटिक महासागर में नाव पलटने से 58 की मौत, राहत व बचाव कार्य जारी

हाल ही में अटलांटिक महासागर में शरणार्थियों से भरी एक नाव पलटने से 58 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई है. ये शरणार्थी नाव में सवार होकर यूरोप में शरण लेने के लिए अटलांटिक की खतरनाक यात्रा पर निकले थे. सभी शरणार्थी पश्चिमी अफ्रीकी देश गाम्बिया के रहने वाले थे.

मिली जानकारी के अनुसार हम आपको बता दें कि हादसे का शिकार होने वाली नाव में दर्जनों की संख्या में शरणार्थी थे. अनुमान लगाया जा रहा है कि नाव में लगभग 150 शरणार्थी सवार थे. इनमें से 83 लोगों ने नाव डूबने के बाद तैरकर किसी तरह अपनी जान बचा ली. हादसे की सूचना मिलते ही अंतरराष्ट्रीय एजेंसियों द्वारा राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिया गया. बताया जा रहा है कि अब तक 58 शरणार्थियों के शव समुद्र से बरामद किए जा चुके हैं. आशंका व्यक्त की जा रही है कि मृतकों की संख्या इससे ज्यादा हो सकती है. यूएन माइग्रेशन एजेंसी ने बुधवार को हादसे की रिपोर्ट जारी की है.

2019 की सबसे बड़ी दुर्घटना: यदि हम बात करें सूत्रों कि तो शरणार्थियों के लिए काम करने वाले अंतरराष्ट्रीय संगठन के मुताबिक यूरोप में शरण लेने का प्रयास करने के दौरान इस साल (2019 में) शरणार्थियों के साथ होने वाली ये सबसे बड़ी दुर्घटना है. दुर्घटना के वक्त नाव में कम से कम 150 शरणार्थी सवार थे. अटलांटिक महासागर में यात्रा के दौरान उत्तर पश्चिमी अफ्रीका  के देश मॉरिटानिया  को करीब नाव का ईंधन लगभग समाप्त हो चुका था.

83 लोगों को जिंदा बचाया गया: सूत्रों का कहना है कि हादसे की सूचना मिलने पर मॉरीटानिया के अधिकारियों द्वारा नाव में सवार लोगों को बचाने का प्रयास किया गया. मॉरीटानियन अधिकारियों ने तुरंत उत्तरी शहर नौदहिबौ  में राहत-बचाव कार्य शुरू किया और जान बचाने के लिए समुद्र में तैर रहे 83 लोगों को जिंदा निकाल लिया गया. इन सभी का मॉरीटानिया में इलाज चल रहा है.

सात्विक-चिराग और पैरा बैडमिंटन का यह खिलाड़ी BWF अवार्ड के लिए हुआ नॉमिनेट

सूडान: चीनी मिट्टी की फैक्ट्री में विस्फोट, 23 की मौत 130 लोग गंभीर रूप से घायल

दिन से लेकर रात तक पाक को दिखता है केवल भारत, अब मढ़ा अंतरिक्ष में मलबे का दोष