कांग्रेस के बागियों के भाजपा में शामिल होने पर भाजपा में विवाद

नई दिल्ली : पांच राज्यों में चुनावी नतीजे आने से पहले ही राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है तो दूसरी ओर उत्तराखंड में कांग्रेस के बागी नेताओं के भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने क बाद भारतीय जनता पार्टी में अंदरूनी लड़ाई फूट सकती है। माना जा रहा है कि भाजपा के नेता अपने वर्चस्व को लेकर विवाद कर सकते हैं। हालांकि यह बात भी सामने आ रही है कि कुछ नेता चुनावी जंग के जिताऊ खिलाड़ी दिखाई दे रहे हों, मगर उनकी साख अच्छी नहीं रही। कहा तो यह भी जा रहा है कि भारतीय जनता पार्टी द्वारा नैतिकता का पाठ पढ़ाने की हिम्मत भी नहीं जुटाई जा सकेगी।

भाजपा के कुछ। नेताओं का मानना है कि वे जिनका विरोध करते थे अब उनकी जय जयकार करनी होगी। तीन से चार सीटों पर भारतीय जनता पार्टी के नेता नाराज होकर कांग्रेस के साथ जा सकते हैं। यही नहीं उत्तराखंड के बागी कांग्रेसियों को लेकर रायपुर में विरोध तेज हो गया है। इस दौरान रायपुर, धर्मपुर, जसपुर, रूड़की आदि सीटों पर भगवान समर्थकों को थामे रखने की चुनौती भारतीय जनता पार्टी के सामने भी होगी।

भारतीय जनता पार्टी ने उत्तराखंड में कांग्रेस के अपनी सरकार बचा लेने के बाद उसके खिलाफ अभियान चलाने का मन बना लिया ह। इसके लिए वह विशेष कार्यक्रम चलाएगी। हालांकि कांग्रेस के बागी विधायकों को भाजपा में शामिल किए जाने को लेकर विधायकों और अन्य नेताओं के बीच विवाद गहरा गया है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -